शेयर करे

नाव डूबने से दर्जनों लोगों के डूब कर मरने की आशंका

कोई टिप्पणी नहीं
   कटिहार: बारसोई/ नीरज झा:प्रखंड के आबादपुर थाना क्षेत्र के चापाखोर पंचायत के सीमा से सटे जगन्नाथपुर घाट पर महानंदा नदी में गुरुवार की देर संध्या अचानक यात्रियों से भरे नाव के गहरे पानी में डूब जाने से बिहार व बंगाल के लगभग दर्जन भर लोगों के डूब कर मरने की आशंका जताई जा रही है•|सूत्रों से यह ज्ञात हुआ है कि इस नाव में लगभग छः दर्जन लोग सवार थे•|


नाव में यात्रियों के अतिरिक्त कुछ दो पहिया वाहनों को भी लोड कर लिया गया था• प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि भार वहन क्षमता अत्यधिक हो जाने के चलते नाव बीच नदी व गहरे पानी में डूब गया तथा देखते ही देखते उसमें सवार बुजुर्ग महिला पुरूष तथा जवान व्यक्ति सभी गहरे पानी में दुब गये• मौके पर कई यात्रियों ने तैर कर खुद को किनारे लगाया व अपनी जान बचायी|

इसमें से कई बदकिस्मत रहे जो तैर नही पाये तथा दुर्भाग्यवश अपनी जान गवां बैठे• मौके पर परिजनों के द्वारा अपनों की खोज की जा रही है• बतातें चलें कि महानंदा नदी पर स्थित उक्त घाट बिहार एवं बंगाल को जोड़ने का कार्य करती है जिससे इस नाव में बिहार एवं बंगाल दोनों राज्यों के लोग सवार थे• प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इस नाव में बिहार स्थित आबादपुर थाना क्षेत्र के नलसर एवं चापाखोर पंचायत के लगभग तीन दर्जन लोग सवार थे जो उस पार अपने परिजनों से मिलने व अन्य कार्यों के लिए जा रहे थे•   सूत्रों से मिली मेरी जानकारी के अनुसार  लगभग 100 से अधिक नाउ में सवार थे


मौके पर पहुंची अनुमंडल पदाधिकारी पवन कुमार मंडल प्रखंड विकास जियाउल हक पदाधिकारी  अंचल पदाधिकारी संजय कुमार सिंह आबादपुर थाना पुलिस व बंगाल स्थित ईटाहार एवं रायगंज थाना पुलिस|

बंगाल व बिहार पुलिस प्रशासन ने काफी मशक्कत के पश्चात बरामद की आधा दर्जन लाशें

बरामद लाशों में एक व्यक्ति बिहार के आबादपुर थाना क्षेत्र के नलसर पंचायत स्थित रघुनाथपुर ग्राम निवासी बुजुर्ग बेंगाई मोहम्मद(65वर्ष) बताये जा रहे हैं

©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

कटिहार पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 870 ग्राम हेरोइन के साथ के दो जीआरपी जवान सहित तीन आरोपी गिरफ्तार

 कटिहार/नीरज झा :-- कटिहार पुलिस ने गुप्त सूचना पर अज्ञात व्यक्तियों के साथ मादक पदार्थ (हीरोइन) का खरीद फरोख होने की सूचना मिलने पर कटिहार...

Blog Archive