शेयर करे

भाजपा कोटे से टिकट नहीं मिलने के कयास से अशोक अग्रवाल का भाजपा और जदयू के खिलाफ शक्ति प्रदर्शन

कोई टिप्पणी नहीं
कटिहार/नीरज झा:-- कटिहार लोकसभा सीट जदयू के खाते मे चले जाने के वाद उम्मीदवार की संभावित घोषणा होने से भाजपा समर्थित एमएलसी आशोक अग्रवाल के समर्थन मे पूरे जिले में उबाल आगया। कार्यकताओ के अधिक दवाब के आगे एमएलसी आशोक अग्रवाल ने बगावती तेवर दिखाते हुये  ग्रामीण क्षेत्र से आए हजारो कार्यकर्ताओं के साथ एक बैठक का आयोजन किया और भाजपा जदयू को साफ शब्दों में कहा कटिहार लोक सभा सीट शुरू से ही भाजपा की रही है |



पत्रकारों के द्वारा निर्दलीय चुनाव लड़ने के सवाल पर छोड़ बोले 2009 से NDA में रहके विधान पार्षद के रूप में लगातार लोगों की सेवा कटिहार जिले के सातों विधानसभा के लोगों की सेवा हमलोगों ने की है और आज 2014 में जो हमारे NDA के उम्मीदवार थे वो चुनाव हारे थे और इस बार 2019 में फिर दुबारा जब चुनाव का टाइम आया लगातार हमलोग क्षेत्र में बने हुए थे क्षेत्र के लोगों की इक्छा है कि NDA का उम्मीदवार जिताऊ उम्मीदवार मैदान में आये जब परसों मालूम हुआ हमलोगों कि ये सीट जनता दल यू के खाते में चली गई है तब से लोगों का काफी फोन आ रहा था कि भैया एक बार्क मीटिंग रखा जाय हमलोगों की राय सुनी जाय कटिहार जिले के जो 200 पंचायत है उस पंचायत के प्रतिनिधि और वहां की आम जनता आम लोगों का फोन आना चालू हुआ कि एक बैठक रखी जाए उसी नियमत यह बैठक रखी गई है लोकसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता पहुंचे हुए हैं उनकी जो राय होगी उसी राय पर हमलोग आगे का डिसीजन करेंगे जदयू के सीट का अनाउंसमेंट नहीं हुआ है जब कंडीडेट का अनाउंस होगा उचित कंडीडेट अगर होता है तो कही कोई दिक्कत नहीं है अगर कोई उचित कंडीडेट नहीं होता है तो जनता फैसला करेगी उचित कंडीडेट का बात है हमलोग शीर्ष नेतृत्व से उचित कंडीडेट की मांग करते हैं जो अच्छा कंडीडेट हो जो जनता के सुख-दुख में 24 घंटा लगा रहे वैसा कंडीडेट.



 जो जनता चाहती है उस कंडीडेट का नाम आये ऐसी यहां के जनता का आवाज है उसी आवाज को हमलोग ऊपर तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं । सम्मेलन मे आये एक कार्यकर्ता ने कहा यह आयोजन कटिहार की जनता का है जनता की मांग है कि हमारा वैसा सांसद हो जो इस कटिहार से लोकल हो और लोगों की समस्या को सुने अशोक अग्रवाल जी एमएलसी होते हुए भी उनको एक्स्ट्रा काम करना पड़ता है जितने लोग आए हैं आप कैमरा घुमाइए और पुछये क्या मूड है क्या डिमांड है उनका क्या मांग है कार्यकर्ताओं का मांग सिर्फ एक है हमारा सांसद अशोक अग्रवाल जैसा ही होना चाहिए इसके बाद और इससे नीचे कोई कंपरमाइज नहीं चाहते शीर्ष नेतृत्व एक बार विचार कर यहां की जनता की मांग पूरी करे ये कटिहार के युवाओं का मांग है अगर ऐसा नहीं होता है तो हम कटिहार की जनता एक निर्दलीय सांसद ही नहीं एक मंत्री भी देने जा रही है इसका पूरा विश्वास के साथ मैं कह रहा हूँ उसका नाम अशोक अग्रवाल है..
यह मंच के पीछे बैनर लगा है होली मिलन समारोह का..लेकिन होली मिलन समारोह के बैनर के बाहर नजारा है शक्ति प्रदर्शन का चुनाव की घोषणा के बाद दौर जारी है लोकसभा चुनाव के टिकट बंटवारे का.. अनोपचारिक घोषणा की खबर मिलते ही कटिहार भाजपा में महज आक्रोश देखा जा सकता है..





©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

नकली बीज बन रहे किसानो की बदहाली की वजह ?

कटिहार: नीरज झा/ कृषि प्रधान देश होने के बावजूद किसान की माली हालत देश में सही नही है । परिवार की पेट की आग बुझाने के लिए किसान माँ तरह मान...

Blog Archive