शेयर करे

डायरिया बीमारी का कहर, कटिहार में तीन मासूम की गई जान

कटिहार के फलका प्रखंड में डायरिया कहर बरपा है सालेहपुर पंचायत के महादलित टोला में डायरिया से पीड़ित एक ही परिवार के तीन बच्चे (चंचला कुमारी 12 वर्ष कृष्णा कुमार 05 वर्ष और बिशुन कुमार 02 वर्ष की मौत इलाज के ले जाने के दौरान हो गई

Falka : 3 children died of diarrhoea






जबकि गाँव में और भी लोग बीमारी के चपेट में आ गए हैं, स्थानीय जनप्रतिनिधि की माने तो इससे पहले स्वास्थ्य महकमा के कोई भी लोग गाँव मे फैले डायरिया बीमारी का सुध लेने अबतक नहीं पहुंचा था ।



 एक बच्चे की मौत पहले हो चुकी थी बांकी दो बीमार बच्चे का फलका PHC में इलाज के बाद बेहतर चिकित्सा के लिए एम्बुलेंस से कटिहार सदर अस्पताल भेजा जा रहा था |गरीब परिजन अपने बच्चे की बिगड़ते हालत को देख जल्द इलाज के लिए एम्बुलेंस से उतर कर प्राइवेट डॉक्टर और दवा के फेर में रह गए और इस बीच बच्चें की मौत हो गई||



  डायरिया के प्रकोप से तीन बच्चों की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने घटना की सुध लिया और आनन-फानन में तत्काल मेडिकल टीम को दलितों के पीड़ित गाँव मे भेज खाना पूर्ति की गई जब तीन बच्चों की मौत की खबर सुनकर जिला स्वास्थ्य प्रशासन की भी नींद खुली और सिविल सर्जन सहित कई स्वास्थ्य कर्मी महादलित की बस्ती में पहुंचे और पीड़ित पिता से घटना और बीमारी की जानकारी लिया साथ साथ डायरिया जैसे बीमारी के प्रकोप से बचने के लिए ऐतिहातन ब्लीचिंग पावडर का बस्ती में छिड़काव करवाया|
दवा के साथ साथ बस्ती में ANM का डेपुटेशन किया, हलाकि समय पर डायरिया से पीड़ित बच्चों का इलाज में कमी बताते हुए बच्चे के परिजन को मौत का भी जिम्मेवार बताया..वो इसलिए कि बच्चे की जिंदगी बच सकती थी |




अगर सरकारी एम्बुलेंस से बीमार बच्चों को इलाज के लिए कटिहार सदर अस्पताल या मेडिकल कॉलेज ले जाने दिया जाता..परिजन को बीच रास्ते मे ही बीमार बच्चे को एम्बुलेंस से नहीं उतारना था घटना के बाद गाँव में कोहराम मचा हुआ है और दहशत का माहौल है परिजनों का रो-रो कर बुराहाल है स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर गाँव पहुंच गई है संभावना है कि डायरिया से आक्रांत गाँव के बीमार लोगों का अब इलाज होगा।

कुमार नीरज
 ©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें
शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

कटिहार के मनसाही महियारपुर में जुआ और अंग प्रदर्शन का जमकर हुआ प्रदर्शन

जुआ और बंगाल के नर्तकी के द्वारा  अंग प्रदर्शन  के लिए याद रहेगा इस बार मनसाही का त्योहारों का मौसम   दीपावली के कुछ दिन पूर्व से लेकर छठ तक...

Blog Archive