शेयर करे

बरसात के पानी से जलमग्न हुआ कटिहार जिला का पोठिया पंचायत

बरसात के पानी से जलमग्न हुआ कटिहार जिला का पोठिया पंचायत सरकार के सात निस्चय योजनाओं का दुरुपयोग प्रसासन बे खबर


बिहार सरकार ने कई तरफ के योजना आम लोगो को ध्यान मे रख कर एक से बढ़कर एक महत्वकांक्षी योजनाएं चलाई जाती है  लेकिन सुशासन बाबू की सरकार में सभी योजनाएं सफ़ेद हाथी साबित होता जा रहा है और जब मौसम हो बरसात का  तो सरकार की लोक लुभावन योजना कमीशन और अफसरशाही के चलते दम तोड़ती दिख रही है।


ये दृश्य कोई बाढ़ की विभिषिका का नहीं ये है कटिहार जिला के फलका प्रखंड के पोठिया का है जहां बारिश के पानी से लोगों का जीवन खतरे में है बीमारी सुरसा के मुंह की तरह मुँह बाये खड़ी है । मुख्यमंत्री सात निस्चय योजना के तहत गली नाली बनी तो है। लेकिन सिर्फ नाम के लिए सरकार के योजनाओं का सिर्फ दुरुपयोग कर सरकारी राशि का बंदर बांट किया गया है।



 स्थानीय लोगो ने बताया पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश से पोठिया के लोगों के लिए किसी आसमानी आफत से कम नही है लोगों के घरों में घुटने से ऊपर पानी है । घर भी नदी नाले में तब्दील है  परिवार के घरो में चूल्हा जलता ही नही है। सरकारी बाबू के लूट खसोट के चलते कई परिवार आज भी भूखा सोने पर बेबस है वहीं कुछ परिवार शौचालय में चूल्हा जला कर खाना बना कर अपना अपने बच्चों का गुजारा कर रहे हैं और सरकार के अधिकारी इस पर चुप्पी साधे हुवे हैं । अ


ब एसे में सवाल उठना लाजमी है कि क्या सुशासन बाबू के सरकार में योजनाओं का दुरुपयोग कर सरकारी बाबू माला माल हो रहे है ।  इस मामले को लेकर जब हमने बीडीओ साहिबा रेखा कुमारी से जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने एक मंथ पहले अपनी पोस्टिंक की हवाला देते हुये जानकारी का अभाव  होने बताया साथ ही बतायी की अब जानकारी हुई है तो साफ सफाई करने का और जो लोग अनिमितता मैं शामिल है उनपर कारवाही की जायेगी । अब सवाल लाजमी जहां बाढ़ से पहले बाढ़ की तैयारी के लिए प्रशिक्षण शिविर लगाई जाती हो बाढ़ से पहले तैयारी की समीक्षा की जाती और थोड़ी सीही बारिश लोगों के लिए नासूर बन जाय ऐसे योजना से लोगो को क्या फायदा

Kumar Neeraj

©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें
शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

छठ पूजा के दौरान भूलकर भी ना करें ये गलतियां

छठ पूजा के दौरान भूलकर भी ना करें ये गलतियां   -------------------------------------------------------------- चार दिनों तक चलने वाला छठ का म...

Blog Archive