शेयर करे

सौंधाघाट पर पुल निर्माण की स्वीकृति से गांवों में ख़ुशी की लहर

प्रखंड क्षेत्र के शितलपुर पंचायत अन्तर्गत सौंधाघाट पर उच्च स्तरीय पूल निर्माण को ग्रामीण कार्य विभाग द्वारा स्वीकृति मिल गयी है।जानकारी मिलते ही सौंधाघाट के आस-पास के लगभग डेढ दर्जन गांवों मे खुशी की लहर दौड़ गयी है।लोगों मे छाई निराशा दूर हो गयी है।ग्रामींण कार्य विभाग द्वारा निविदा जारी किए जाने के बाद ये जानकारी लोगों को मिली।निविदा के अनुसार सौंधाघाट पर 4 करोड़ 52लाख की लागत से पूल का निर्माण होगा।निविदा प्रक्रिया के बाद जल्द ही पूल निर्माण का कार्य आरंभ होगा।


3 प्रखंडों की बड़ी आबादी थी प्रभावित-
ज्ञात हो कि सौंधाघाट आजमनगर,कदवा व प्राणपूर प्रखंडों के सीमा पर अवस्थित है।सौंधाघाट दर्जनों गांवों के सर्वांगीण विकास की सबसे बड़ी बाधक रही है।चचरी पूल और डेंगी नाव पर स्कूली बच्चे भी जान जोखिम मे डाल सौंधाघाट पार करने को मजबूर थे।जिसके कारण लंबे समय से इस घाट पर पूल निर्माण की मांग की का रही थी।


-लोगों ने पूल निर्माण की स्वीकृति पर जताया हर्ष-स्थानिय लोगों में मु मुर्शिद,मु लतिफुररहमान,मास्टर नजरुल,अबुल कासिम,मु मुस्ताक व स्थानीय मुखिया श्रिति कुमारी,समाजसेवी बमबम मंडल आदि ने कहा कि इस घोषणा से हर घर मे खुशी का माहौल है।


-बोले मंत्री सह प्राणपूर विधायक विनोद कुमार सिंह-आजमनगर प्रखंड मे विभिन्न योजनाओं से कुल 28 छोटे-बड़े पुलों के निर्माण को स्वीकृति दिलाई गयी है।जिसमें सौंधाघाट को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखा गया था।वहां पूल के अभाव मे विकास कार्य अवरुद्ध है।इसलिए पूल निर्माण कराया जाना आवश्यक है।इसके अतिरिक्त प्रखंड क्षेत्र मे 106किमी जर्जर सडकों की मरम्मति व 125किमी नए सड़क निर्माण को भी स्वीकृति दिलाई गयी है।


Kumar Neeraj


©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें
शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

बंगाल से बिहार बेरोक टोक तस्करी कर आती है -ईट मंत्री के गृह जिला का हाल -बेफिक्र खनन विभाग के आला अधिकारी ।

नीरज झा |बिहार में खनन अधिनियम की धज्जियां उड़ाते हुए बंगाल के ईंट कारोबारियों द्वारा ट्रक ट्रैक्टर के माध्यम से बड़ी संख्या मे इट की तस्करी ...

Blog Archive