शेयर करे

अवैध बालू खनन का कारोबार धड्ल्ले से

कोई टिप्पणी नहीं

नीरज झा  | कटिहार | सूबे में बालू माफिया पर अंकुश लगाने को लेकर बिहार सरकार ने सभी अबैध खननों  पर रोक लगा दी हैं  लेकिन प्रशासनिक लापरवाही व  अधिकारियों की मिली भगत से सरकारी सम्पतियों का बंदरबाँट जोर शोर से हो रहा है |



कटिहार जिले के फलका प्रखंड के कर्बला नदी के समीप सरकारी जमीन पर बालू माफियाओं के द्वारा बालू का अवैध खनन जारी है, कटिहार जिला सूबे के खनन मंत्री का गृह जिला है|  वावजूद इसके  खनन माफिया बेखौफ बालू का धंधा धरल्ले से कर रहे है । ऐसे में  कारवाई कौन करेगा ये एक अहम् सवाल है |

एक तरफ़ जहाँ बाढ़ एवं कटाव को रोकने के लिए सरकार करोड़ों रुपया हर वर्ष खर्च करती है वही दूसरी ओर  व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए इन दबंग माफियाओं ने नदी के पास  बाँध के समीप धड्ड्ले से बालू का खनन कर रहे हैं |  जिले के खनन अधिकारी की माने तो उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है |  वहीँ ग्रामीण इन दबंग बालू माफियाओं के भय से कुछ भी कहने से हिचकते है |बालू माफियाओं के खिलाफ शिकायत के बाद भी कोई कारवाई न होना अधिकारी के मनसूबे को बताने के लिए काफी हैं |








 हालाँकि इस बात पर विपक्ष के नेता वरीय अधिकारी से बात करने की बात कहते हुए सरकार पर निशाना साध रहें हैं |
सूबे में अवैध खनन का खेल खूब फल फूल रहा है जरुरत है इसपर कड़ी करवाई करने की ताकि बिहार की खनिज संपदा की लूट पर लगाम लग सके  |

क्या कहा अधिकारी ने : -

इस खनन के बारे में मुझे जानकारी नहीं है इसकी सूचना मिली है जहां इन बालुओ का भंडारण किया गया है वहां उसके भार के मुताबिक जुर्माना वसूला जायेगा | 
उमा शंकर सिंह

क्या कहा सांसद ने : -

इस बाबत जानकारी मिली हैं जिले के डीएम से बात कर कठोर-से-कठोर करवाई की मांग करूँगा |
तारिक अनवर, सांसद, कटिहार 

क्या कहा विधायक ने : -

इस सरकार में माफियाओं का राज है, हर तरफ लूट मची हुई है , नैतिकता का हवाला देने वाले माफिया तंत्र पर अनैतिक है , जेसीवी से पुरे सूबे में अवैध खनन , ओवरलोडिंग धरल्ले से जारी सरकार और प्रशासन चुप है | इस संदर्व में जानकारी मिली है जिसपर कठोर से कठोर करवाई हो इसके लिए अधिकारीयों से बात करुँगी अगर फिर भी हालात नहीं बदले तो सदन में आवाज उठाउंगी |
पूनम पासवान,विधायक,कोढ़ा, कटिहार







©www.katiharmirror.com

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

नकली बीज बन रहे किसानो की बदहाली की वजह ?

कटिहार: नीरज झा/ कृषि प्रधान देश होने के बावजूद किसान की माली हालत देश में सही नही है । परिवार की पेट की आग बुझाने के लिए किसान माँ तरह मान...

Blog Archive