कटिहार : क्लोन फिंगर से फर्जी आधारकार्ड बनाने वाले गिरोह के सरगना सहित तीन लोग गिरफ्तार

नीरज कुमार झा | वरीय संवाददाता | कटिहार : कटिहार पुलिस ने अवैध तरीके से आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह के सरगना को गिरफ्तार किया है ।
कटिहार के बारसोई पुलिस उपाधीक्षक पंकज कुमार ने बताया कि भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) द्वारा निर्धारित मानक की अनदेखी करके एवं क्लोन फिंगर प्रिंट बनाकर आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह के मास्टर माइण्ड मोहम्मद शाहिद अंसारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है । मोहम्मद शाहिद कटिहार के मिरचाईबाड़ी का रहने वाला है।




उन्होंने बताया कि गत कुछ दिनों पहले उन्हें सूचना मिली थी कि बायोमिट्रिक मानक की अनदेखी करके तथा क्लोन फिंगर प्रिंट बनाकर आधार कार्ड बनाने वाले इस गिरोह के एक सदस्य को कटिहार के बारसोई अनुमंडल स्थित सुधानी बाजार से गिरफ्तार किया गया था जिससे पूछ-ताछ के बाद पुलिस मोफरगंज के अड़गड़ा चौक के सोनू उर्फ़ तहसीन रजा तक पहुंची और गिरफ्तार इन दोनों व्यक्तियों की निशानदेही पर पुलिस ने इस गिरोह के मुख्य सरगना मोहम्मद शाहिद अंसारी को कटिहार के मिरचाईबाड़ी से गिरफ्तार कर लिया ।




पुलिस ने इस मामले में पिछले दिनों गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार कर कुछ उपकरण/अभिलेख बरामद किये थे । उस अभियुक्त से पूछताछ पर इस अवैध धन्धे से जुड़े अन्य लोगों के साथ गिरोह के मास्टर माइण्ड के रूप में मोहम्मद शाहिद अंसारी का नाम सामने आया था। गिरफ्तार अभियुक्त से अवैध ढंग से आधार कार्ड बनाने के नेटवर्क के बारे में महत्वूपर्ण नयी सूचनाएं मिली थी । जिसके आधार पर पुलिस ने ये करवाई की थी |
कई सरकारी जगहों पर है इसके करीबी का आधार केंद्र :-
कटिहार के कई सरकारी संस्थानों में अवैध तरीके से आधार कार्ड बनाने के मास्टर माइण्ड मोहम्मद शाहिद अंसारी के खुद या उसके करीबी के आधार सेंटर हैं | कटिहार के जिला निबंधन सह परामर्श केंद्र में स्थित आधार केंद्र के भी तार इससे जुड़े है | इसके अलावा कई और सरकारी संस्थानों में इसके तार जुड़े है जिसकी पड़ताल पुलिस कर रही है |
क्या कहा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने :-
अवैध तरीके से आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चूका है इस मामले में पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारी हाथ लगी है और भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) से भी सूचनाएं एकत्रित की जा रही है जिसके बाद कुछ और लोग पुलिस के गिरफ्त में होंगे | इस गिरोह के तार कई आधार केंद्रों में होने की बात सामने आ रही है |


©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

सरकारी डोंगल की कहानी- पास्पोर्ट की ज़ुबानी

कटिहार:|कुमार नीरज: अगर आप विदेश दौरा करने को सोच रहे है तो होशियार हो जाइये  | सरकार लाख दावा करले डिजिटल इंडिया साइनिंग इंडिया की लेक...