कटिहार के दुर्गास्थान चौक स्थित जुगत विवाह भवन मैं नवविवाहिता ने की खुदखुशी

शहर के दुर्गास्थान चौक स्थित जुगत विवाह भवन के एक कमरे से विवाहिता ने पंखे में दुपट्टा का फंदा लगाकर आत्महत्या कर लेने का मामला प्रकाश में आया है।
एक घटना को लेकर विवाहिता के पति नगर थाना में फोन कर सूचना दी और सूचना मिलते ही नगर थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंची व शव का पंचनामा कर अग्रतर कार्रवाई में जूट गयी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विवाह भवन के केयर टेकर नंदकिशोर दास अपने परिवार के साथ विवाह भवन के आउट हाउस में रहता था। सोमवार को नंदकिशोर अपनी पत्नी के साथ अररिया किसी काम से गए हुए थे।









घर में उसका पुत्र शिवकेश व उसकी पत्नी नेहा थी। घटना को लेकर पति के बयान के अनुसार सुबह नेहा उठी और उससे कहा कि मुझे अपने दीदी के यहां तीन पहाड़ साहेबगंज जाना है। इस बात पर शिवकेश ने कहा कि माता पिता बाहर गये है। उनके लौटने के बाद दीदी के यहां चले जाना। मुझसे बात करने के बाद नेहा आउट हाउस से विवाह भवन के कमरे की ओर चली गयी।








नेहा के चलेेेे जाने के बाद शिवकेश अन्य कार्य में व्यस्त हो गया। दिन के तकरीबन 11.30 बजे जब शिवकेश पत्नी नेहा को ढूंढते हुए विवाह भवन के उक्त कमरे के बाहर आया और नेहा को गेट खोलने की बात कहने लगा। जब नेहा ने गेट नही खोला तो समीप के सटे कमरे से होकर शिवकेश नेहा के कमरे में गया तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गया। नेहा का शरीर फंदा से झुल रहा था। शिवकेश ने घटना की जानकारी नगर थाना पुलिस को दिया। घटना की जानकारी मिलते ही नगर थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गयी और मामले की जांच में जूट गयी। इधर घटना की जानकारी मिलते ही शिवकेश के माता पिता भी घर लौट गये थे तथा अपने पुत्रवधु की स्थिति को देखकर दोनों का रो रो कर बुरा हाल हुआ जा रहा था। इधर शिवकेश ने नेहा के मायके वालों को आत्महत्या की खबर की सूचना दे दिए हैं। सूचना मिलते ही नेहा का परिवार कटिहार के लिए चल दिए हैं। नेहा के परिजन आने के बाद ही यह स्पष्ट हो पायेगा कि मामला हत्या का है या फिर आत्महत्या की। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जूट गयी है।

कहते हैं थाना अध्यक्ष

इस संबंध में नगर थाना अध्यक्ष निर्मल कुमार यादवेन्दु से बात की गई तो उन्होंने बताया कि फिलहाल जांच चल रही है। जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा की हत्या है या खुदकुशी।
कुमार नीरज

एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

सरकारी डोंगल की कहानी- पास्पोर्ट की ज़ुबानी

कटिहार:|कुमार नीरज: अगर आप विदेश दौरा करने को सोच रहे है तो होशियार हो जाइये  | सरकार लाख दावा करले डिजिटल इंडिया साइनिंग इंडिया की लेक...