Katihar इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2018 के सफल आयोजन हेतु प्रशासनिक तैयारी पूरी।

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2018 के सफल आयोजन हेतु प्रशासनिक तैयारी पूरी। स्वच्छ एवं कदाचारमुक्त होगी परीक्षा-
 31 जनवरी 2018:       विकास भवन के सभागार में इंटरमीडिएट सैद्धांतिक वार्षिक परीक्षा 2018 के सफल संचालन हेतु आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी, श्री मिथिलेश मिश्र ने कहा कि जिले में स्वच्छ एवं कदाचारमुक्त परीक्षा आयोजन हेतु सभी आवश्यक प्रशासनिक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी केंद्राधीक्षकों, स्टेटिक दंडाधिकारियों, गश्ती दल दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि परीक्षा केंद्रों पर स्वच्छ एवं कदाचार मुक्त परीक्षा का आयोजन प्रशासनिक जिम्मेवारी है। कोई भी परीक्षार्थी अथवा परीक्षा केंद्र पर प्रतिनियुक्त वीक्षक अथवा अन्य कर्मी कदाचार लिप्त अथवा सहयोग करते हुए पाए गए तो उनके विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा संचालन अवधि में वीडियोग्राफी की व्यवस्था सुनिश्चित करें एवं परीक्षार्थियों के बैठने हेतु आवश्यक डेस्क एवं बेंच की व्यवस्था ससमय सुनिश्चित करा लें। प्रावधान के अनुसार एक बेंच पर 2 परीक्षार्थियों की बैठने की व्यवस्था होगी एवं कोई भी परीक्षार्थी, वीक्षक परीक्षा केंद्र के अंदर मोबाइल अथवा अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का प्रयोग नहीं करेंगे। इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं जिसका अनुपालन हर हाल में सुनिश्चित होना चाहिए। स्टेटिक दंडाधिकारियों को उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व गेट पर ही परीक्षार्थियों की अच्छी तरह से जांच सुनिश्चित करा लें, ताकि कोई भी अवांछित सामग्री परीक्षा हॉल में नहीं जाने पाए। यदि भ्रमण के क्रम में ऐसी अवांछित सामग्रियां परीक्षा केंद्रों पर पाई गई, तो संबंधित केंद्राधीक्षक एवं वीक्षक सहित अन्य प्रतिनियुक्त पदाधिकारी जिम्मेवार होंगे। उल्लेखनीय है कि इंटरमीडिएट सैद्धांतिक वार्षिक परीक्षा 2018 में जिले से अनुमानित 22000 परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं, जिनमें 9000 छात्राएं हैं। छात्र एवं छात्राओं के लिए अलग-अलग परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। कटिहार अनुमंडल के अंतर्गत छात्राओं के लिए 10 परीक्षा केंद्र, बारसोई मंडल के अंतर्गत 4 परीक्षा केंद्र तथा मनिहारी अनुमंडल अंतर्गत 3 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। पूरे जिले में 30 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिसमें से 17 परीक्षा केंद्र छात्राओं के लिए निर्धारित है। जिला पदाधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रत्येक केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जा रही है। कदाचारमुक्त परीक्षा संचालन हेतु पर सात जोनल दंडाधिकारी एवं चार वरीय पदाधिकारियों को सुपर जोनल दंडाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि प्रत्येक परीक्षा केंद्रों पर प्रतिनियुक्त स्टेटिक दंडाधिकारियों एवं पुलिस बल का दायित्व होगा कि परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में कोई भीड़ जमा न हो अथवा विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न न हो। परीक्षा केंद्रों पर नियमित पुलिस बल के साथ-साथ होमगार्ड की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। उन्होंने बताया कि व्यवहृत उत्तर पुस्तिकाओं के लिए बारकोडिंग हेतु बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मार्गनिर्देश के अनुरूप आपको पूर्व में जानकारी दी गई है। इसके लिए चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर के रुप में अपर समाहर्ता एवं डिप्टी चीफ सेक्रेटरी ऑफिसर के रुप में जिला पंचायती राज पदाधिकारी को प्रतिनियुक्त किया गया है, जो बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मार्गनिर्देश के अनुरुप कार्य करेंगे। आज की बैठक में अनुपस्थित पदाधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिला पदाधिकारी ने उनसे स्पष्टीकरण पूछने का निर्देश दिया। इंटरमीडिएट परीक्षा की तैयारी की समीक्षा हेतु आयोजित बैठक में अपर समाहर्ता, कटिहार अनुमंडल पदाधिकारी, सभी सुपर जोनल दंडाधिकारी, गश्ती दल दंडाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, शिक्षा विभाग के सभी जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, परीक्षा केंद्रों पर प्रतिनियुक्त स्टेटिक दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी सहित सभी केंद्रों के केंद्राधीक्षकगण उपस्थित थे। ©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

गौशाला गुमटी पर होगा ६१ करोड़ ५७ लाख की लागत से फोर लेन पुल का निर्माण

कटिहार: कटिहार के गौशाला स्थित रेल गुमटी पर जल्दी ही पुल का सपना पूरा होने को है |61 करोड़ 57 लाख की लागत से जल्द ही यहाँ फोर लेन पुल का न...