Katihar खाद्यान्न गबन के आरोप में डीलर पर मामला दर्ज

आजमनगर खाद्य निगम का गोदाम

कटिहार/आजमनगर प्रखंड क्षेत्र के सिंघौल पंचायत अंतर्गत जन वितरण प्रणाली विक्रेता मंगल यादव पर गरीबों को उलब्ध कराए जाने वाले खाद्यान गबन करने के कथित आरोप में
बीडीओ सह एमओ पूरण साह के द्वारा आजमनगर थाना में मामला दर्ज करने हेतु आवेदन दिए जाने का मामला प्रकाश में आया है|साह ने दिये पत्रांक संख्या2दिनांक8जनवरी को आवेदन में बताया है कि सिंघौल पंचायत के जन वितरण प्रणाली के विक्रेता मंगल यादव अनुज्ञप्ति संख्या2/92 के विरुद्ध उपभोक्ताओं ने डीएम मिथिलेश मिश्र को आवेदन देकर बीते वर्ष माह नवंबर का खाद्यान्न वितरण नहीं किए जाने एवं माह दिसंबर खाद्यान्न का उठाव कर कालाबाजारी कर बेच देने सहित डीलर पर अभद्र बर्ताव करने का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की थी|
राज कंस्ट्रक्शन की दलील
जिसके आलोक में24 दिसंबर को डीलर मंगल यादव के दुकान पहुंच बीडीओ सह एमओ साह ने डीलर से भंडार पंजी एवं वितरण पंजी की मांग करते हुए  भौतिक सत्यापन हेतु गोदाम खुलवाया जहां गोदाम में82बोरा गेहूं एवं119बोरी चावल उपलब्ध पाया |परंतु गबन के आरोप से घिरे डीलर ने पंजी संधारित नहीं होने का हवाला देते हुए जांच के समय उपलब्ध नहीं कराया डीलर मूल रूप से अरिहाना पंचायत के निवासी हैंऔर उनका व्यापार स्थल सिंघौल पंचायत में  संचालित है|जिसके द्वारा माह दिसंबर का खाद्यान्न डोर स्टेप डिलीवरी के माध्यम से बीते22 दिसंबर को आजमनगर गोदाम से उठाव किया जिसे व्यापार स्थल सिंघौल में नहीं खाली कराते हुए खाद्यान को अपने घर पर उतार लिया| जिसकी पुष्टि डोर स्टेप डिलीवरी के परिवहन अभिकर्ता के द्वारा कार्यालय को दिए आवेदन से स्पष्ट है|
डीलर के गोदाम में जो खाद्यान जांच में पाया गया वह माह नवंबर का था जो अब तक डीलर ने वितरण क्यों नहीं किया जो गंभीड़ मसला है|जब कि डीलर ने30नवंबर को खाद्यान का उठाव किया था| बावजूद इसके माह दिसम्बर का खाद्यान डीलर ने अपने घर पर खाद्यान को उतार लिया जाना डोर स्टेप डिलीवरी के परिवहन  अभिकर्ता का विक्रेता के साथ खाद्यान की कालाबाजारी करने में संलिप्तता से इंकार नहीं किया जा सकता है|क्यों कि परिवहन अभिकर्ता ने डीलर के घर पर खाद्यान की डिलीवरी करने से पूर्व विभाग को सूचित नहीं किया आदि बातों का जिक्र करते हुए गबन कर लेने का जिक्र करते हुए डीलर के विरुद्ध मामला दर्ज करने हेतु थाने में मंगलवार की शाम आवेदन दिया गया है.|
परिवहन अभिकर्ता राज कंस्ट्रक्शन की क्या है दलील आजमनगर:- सूत्रों से उपलब्ध हुए राज कंस्ट्रक्शन के द्वारा बीडीओ सह एमओ को दिए अपनी लिखित दलील में बताया है.कि उनके प्रतिनिधि द्वारा दिनांक22दिसंबर को आजमनगर गोदाम से वाहन संख्या बीआर11जे4188तथा बीआर39जीए2310से सिंघौल पंचायत के जविप्र विक्रेता मंगल यादव को खाद्यान भेजा था|परंतु मंगल यादव वाहन चालक से जबरजस्ती अरिहाना स्थित अपने घर पर खाद्यान उतार लिया यह कह कर कि खाद्यान यहीं से वितरण करेंगे तो क्या वाहन चालक ने तत्काल इसकी सूचना गोदाम प्रबंधक अथवा एमओ को क्यों नहीं दिया|जब कि बदलते समय के साथ साथ विभिन्न चालकों द्वारा यदा कदा डीलर मंगल यादव के घर पर खाद्यान डिलीवरी किया हीं होगा तो निश्चित हीं चालक को यह मालूम रहा होगा कि डीलर खाद्यान का वितरण सिंघौल पंचायत स्थित दुकान से करता है|अरिहाना स्थित घर से नहीं.तो क्या चालक से जबरजस्ती की गई थी या उनकी भी रजामंदी रही थी|जब कि डोर स्टेप डिलीवरी के परिवहन अभिकर्ता को शख्त निर्देश होता है.कि डिलीवरी जविप्र के दुकान पर हीं देनी है.|

कहते हैं थाना प्रभारी:- आजमनगर थाना प्रभारी शंकर शरण दास ने बताया कि वर्णित प्रकरण को लेकर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी आजमनगर के पत्रांक संख्या2दिनांक8जनवरी को आवेदन प्राप्त हुए हैं.मामले में डीलर मंगल यादव नामजद किये गए हैं.समचार लिखे जाने तक मामला दर्ज नहीं हो पाया था|

 तुषार शाण्डिल्य

©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

शिक्षक को गोली मार कर लैपटॉप छीनने के मामले में हुइ गिरफ़्तारी

केन्द्रीय विद्यालय के शिक्षक प्रीतेश कुमार को गोली मार कर घायल कर के लैपटॉप छीनने के मामले में पुलिस ने त्वरित कारवाही कर  बिकास सिंह को...