Katihar मिशन इंद्रधनुष मे कोताही पर नपेंगे सबंधित पदाधिकारी

कटिहार 23 अक्टूबर 2017 को मिशन इंद्रधनुष के अंतर्गत बच्चों के टीकाकरण का शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करना हमारी प्राथमिकता है।
इस अभियान में लचर प्रगति वाले कर्मी एवं पदाधिकारी बख्शे नहीं जाएंगे। समाहरणालय के सभाकक्ष में स्वास्थ्य विभाग के जिला टास्क फोर्स कमिटी की बैठक करते हुए जिला पदाधिकारी, श्री मिथिलेश मिश्र ने उक्त बातें कहीं सभाकक्ष में स्वास्थ्य विभाग के जिला टास्क फोर्स कमिटी की बैठक करते हुए जिला पदाधिकारी, श्री मिथिलेश मिश्र ने उक्त बातें कहीं। उन्होंने समीक्षा के क्रम में मिशन इंद्रधनुष के तहत टीकाकरण के शतप्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति हेतु चलाए गए कार्य चलाए जा रहे कार्यक्रमों की समीक्षा के क्रम में लचर प्रगति पाए जाने के कारण सिविल सर्जन को जिले के सभी प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधकों एवं बी0 सी0एम0 के वेतन भुगतान अगले आदेश तक स्थगित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इस अभियान की सफलता के लिए यह आवश्यक है कि सभी आशा कार्यकर्ता एवं आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविका एवं सहायिका, अपने-अपने पोषक क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वे सूची को अद्यतन करें तथा इसकी ड्यू लिस्ट समुचित तरीके से संधारित हो। इस कार्य में यदि कोताही पाई गई, तो वैसे कर्मियों/पदाधिकारियों को सेवा से विमुक्त करने की कार्यवाही की जाएगी।

 बैठक में मनिहारी के स्वास्थ्य प्रबंधक द्वारा 15 ए0एन0एम0 के कार्यों में लापरवाही के संबंध में प्रतिवेदित किए जाने पर जिला पदाधिकारी ने उक्त आलोक में सिविल सर्जन को जांचोपरांत कार्यवाही करने का निर्देश दिया। बैठक में कटिहार सदर की प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा प्रतिवेदित किया गया कि स्थानीय नगर क्षेत्र स्थित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या-96 के समय पर नहीं खुलने के कारण सर्वे का काम बाधित हुआ है, जिसे गंभीरता से लेते हुए जिला पदाधिकारी ने समेकित बाल विकास परियोजना के जिला प्रोग्राम पदाधिकारी को संबंधित केंद्र की सेविका एवं सहायिकाओं को चयनमुक्त करने की कारवाई हेतु आदेश दिया। उल्लेखनीय है कि नियमित टीकाकरण को शत-प्रतिशत पहुंचाने के उद्देश्य से मिशन इंद्रधनुष के तहत कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। इस मिशन के अंतर्गत सभी बच्चों को राष्ट्रीय टीकाकरण शेड्यूल के अनुसार टीकाकृत किया जाना है। खासतौर पर 02 वर्ष तक के बच्चों एवं वैसी गर्भवती महिलाएं, जिनके नियमित टीकाकरण के शेड्यूल छूट गए हैं, उनके कवरेज पर विशेष बल दिया जा रहा है। इस अभियान के तहत अभी तक जिले में सभी आशा कार्यकर्ता एवं आंगनवाडी वर्कर्स के साथ प्रखंडों में प्रशिक्षण कराया गया है। साथ ही कोल्ड चेन संधारण एवं डाटा ऑपरेटर की भी ट्रेनिंग कराई गई है। आशा कार्यकर्ता, एएनएम एवं आंगनवाडी वर्कर के लिये प्रखंड स्तरीय ब्रिज प्रशिक्षण अभी चल रहा है। बैठक के दौरान जिला पदाधिकारी ने इस अभियान में लगे जिला स्तर के अथवा अनुमंडल या प्रखंड स्तरीय तमाम पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि इस अभियान में शत-प्रतिशत उपलब्धि हर हाल में हासिल करनी है। यदि इसमें कमी आई तो उनके मानदेय अथवा वेतन में भी समानुपातिक कटौती के आदेश दिए जाने की दिशा में कार्यवाही होगी।
आज की बैठक में डंडखोरा के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक की अनुपस्थिति को गंभीरता से लेते हुए जिला पदाधिकारी ने उनसे कारण-पृच्छा पूछने का आदेश दिया। बैठक में सिविल सर्जन, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, यूनिसेफ के प्रतिनिधि आदि मौजूद थे|

नीरज झा
©www.katiharmirror.com
एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

सड़क निर्माण में अनियमितता,ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

कटिहार \वी सी झा : प्रखंड क्षेत्र के हरनागर पंचायत में पंचमवित्त योजना की राशि से निर्मित होने वाली सड़क निर्माण कार्य में अनियमितता को ...