शेयर करे

Katihar News अस्पताल की मन मानी

कोई टिप्पणी नहीं
SRM हॉस्पिटल मे चार दिन के बच्चे को बेहतर इलाज के लिये लाया गया लेकिन मासुम को नहीं बचाया जा सका  हॉस्पिटल प्रशासन ने बच्चे के इलाज मे हुये खर्च देने के वाद ही परिजनों को मृत बच्चे को देने की बात कही| परिजनो ने  अधिक पेसे  होने के कारण  अपनी असमर्थता जताने पर  SRM हॉस्पिटल ने मृत बच्चे को परिजनों के हवाले नहीं किया|
तब परिजन मृत बच्चे को छोड़ कर रोते बिलखते अपने घर चले गये |
 क्या रूपये के लिए अस्पताल कर्मी इतना गिर जाते है की इंसानियत भी शर्मसार हो जाय जरा सोचये उस अभागी माँ पर क्या गुजर रही होगी  जिसने ठीक से अपने जिगर के टुकड़े को देखा तक नहीं  ?
आश्चर्य तब  होता है जब SRM हॉस्पिटल ने  36 घंटे बीतने के वाद भी कटिहार पुलिस प्रशासन को लिखित सुचना नहीं दी  होस्पिटल प्रशासन को अभी भी उमीद है परिजन आयेगे और बकाया पेसे  देकर मृत बच्चे की लाश लेकर जायेगे 





-कुमार नीरज

कटिहार मिरर नोट: अस्पताल के नियम अपनी जगह जायज़ हो सकते है पर संवेदनशील परिस्थियो में सवेंदंशिलता भी अनिवार्य है|

कोई टिप्पणी नहीं

शेयर करे

Popular Posts

Featured Post

हसनगंज बीडीओ अपनी बेटी को PHC मे टिका लगवाकर लोगों को दिया नया संदेश

कटिहार/नीरज झा :--जिस समाज में पैसे की खनक और रुतबे दिखाने का चलन हो लोग अपना इलाज या बच्चों के टीकाकरण निजी अस्पताल मे करना शान समझते है |...

Blog Archive