Wednesday, May 16, 2018

पूर्व डीएम के आदेश की आजमनगर प्रखंड में नहीं होती सुनवाई

Mithlesh Mishra

कटिहार/आजमनगर:जिले के आजमनगर प्रखंड में इन दिनों प्रखंड नाजीर संजय कुमार के स्थानांतरण व गोपाल कुमार के पदस्थापन का मामला पूर्व डीएम मिथिलेश मिश्र के स्थानांतरण के बाद भी चर्चा का केंद्र बना हुआ है|

विदित हो पूर्व डीएम मिश्र द्वारा प्रखंड नाजीर संजय कुमार का स्थानांतरण मनिहारी प्रखंड में किये जाने के बाद आजमनगर प्रखंड में पदस्थापित लिपिक गोपाल कुमार को प्रखंड नाजीर के पद पर प्रतिनियुक्ति तो की गई |


इससे संबंधित आदेश पर आदेश भी निकाले गए लेकिन आजमनगर प्रखंड में अब गोपाल कुमार को नाजीर का प्रभार मिलता नहीं दिख रहा जिसे स्थानीय जनप्रतिनिधि डीएम के आदेश को तरजीह नहीं मिलने से जोड़ कर देख रहे हैं.सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक आजमनगर प्रखंड से21मार्च को पत्रांक598में स्थानांतरित हुए लिपिक से बने नाजीर संजय कुमार के पदस्थापन आजमनगर में यथावत रखने की सिफारिश हीं नहीं की गयी है|
Sanjay


बल्कि संजय के कसीदे भी भरे गए हैं.इतना हीं नहीं डीएम के द्वारा प्रखंड नाजीर पद पर पदस्थापित किये गए लिपिक गोपाल मंडल नजारत कार्य के लिए सक्षम हीं नहीं,इनका सेवा काल भी विवादित रहा है.किस तरह का विवादित इस बात का खुल कर जिक्र नहीं किया गया है.साथ हीं स्थानांतरित नाजीर संजय कुमार नजारत के अतिरिक्त मनरेगा लेखापाल के अतिरिक्त प्रभार में भी हैं.हलांकि जब उक्त प्रकरण मीडिया में सुर्खियां बटोरी तब आनन फानन में नाजीर संजय को आजमनगर से विरमित करते हुए मनिहार भेजा तो गया चर्चा के मुताबिक उसने वहाँ योगदान भी दिया अब सवाल उठता है.संजय आज भी आजमनगर प्रखंड में नाजीर पद पर बने हुए हैं.वहीं गोपाल कुमार प्रभार प्राप्ति के इंतजार में हैं.अगर विभागीय सूत्रों की माने तो डीएम मिश्र के द्वारा प्रखंड नाजीर पद पर प्रखंड लिपिक गोपाल कुमार वर्ष2005से2008तक बलरामपुर प्रखंड व वर्ष2013से2016तक हसनगंज प्रखंड में प्रखंड नाजीर पद पर अपनी सेवा दे चुके हैं.ऐसे में बीडीओ के द्वारा अयोग्य करार देने व कार्यकाल विवादित बतलाने के पीछे की आखिर वजह क्या सूत्र बताते हैं.कि संजय ने मनिहारी में योगदान के पश्चात मनिहारी बीडीओ द्वारा प्रभार आदान प्रदान करने के लिए एक पक्ष के लिए प्रतिनियुक्त किया गया था.लेकिन महीनों बीत जाने पर भी आजमनगर प्रखंड नजारत में कुंडली मारे बैठे हुए हीं नहीं हैं.बल्कि कार्यों का निष्पादन भी कर रहे हैं.जो वरीय अधिकारियों के निर्गत आदेश को हवा में उड़ाती नजर आ रही है.|


Tushar Shandilya
©www.katiharmirror.com

No comments:

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Scroling ad