Monday, December 18, 2017

Katihar जमीनी विवाद में दो पक्षों में मारपीट मामला दर्ज

पीड़िता घर के बाहर बिखड़े पड़े सामान
कटिहार/आजमनगर :जिले के सालमारी ओपी से चंद दूरी पर जमीनी विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट किये जाने का मामला प्रकाश में आया है|
एक पक्ष  की पीड़िता ने पुलिस को दिए आवेदन में कई को नामजद सहित अज्ञात के विरुद्ध ओपी में आवेदन दी है.जिसमें पीड़िता ने बताया है.बीते15दिसंबर की तड़के दोपहर एक पक्ष ने घर में घुस मारपीट करते हुए घर से सामान निकाल बाहर फेंक दिया.आवेदन से जानकारी के मुताबिक सभी घातक सामग्री से लैस थे.घटना से पीड़ित पक्ष दहशत में हैं.पुलिस मामले की जांच में जुटी है.घटना से सम्बंधित कई वीडियो फुटेज के साथ पीड़िता एसपी कार्यालय पहुँच तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है.बाजार से क्षण कर आई खबर घटना बाजार में घटित होने की वजह से एक मुँह कई बातें हो रही   है.पीड़ित पक्ष ने एसपी को दिए आवेदन में जमीनी प्रकरण को लेकर उपजे विवाद में सालमारी पुलिस की शक्रियता मुक्त कार्यशैली पर भी प्रकाश डाला गया है.हलांकि सालमारी ओपी क्षेत्र में इन दिनों जमीनी विवाद की घटना में वृद्धि हुई है.जिसका परिणाम ऐसे विवादों का सामने आना है.गौरतलब हो कि इसी जमीनी विवाद प्रकरण मामले में सालमारी ओपी के छोटा बाबू अवध किशोर सिंह पर दबंगई के आरोप लगे हैं.अगर ओपी में पिछले कुछ महीनों के दर्ज मामलों के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अधिकांश मामले जमीनी विवाद से संबंधित दर्ज हुए हैं.हालया कई मामलों में सालमारी पुलिस की शक्रियता पर व्यवसायियों ने भी उंगली उठाई है.वहीं एक जमीनी विवाद के व्यक्ति ने बताया कि पुलिस जमीनी विवाद मसले पर सूचना देने के बाद भी जल्दी नहीं पहुँचती है.हाल के दिनों में ऐसे कई मामले सालमारी ओपी में दर्ज हुए हैं.जिसके उद्भेदन करने हीं नहीं चार्जशीट दायर करने में भी सालमारी पुलिस की कागजी प्रक्रिया की रफ्तार काफी धीमी रहने की वजह से मामले के आरोपियों को इसका फायदा मिल जा रहा जो सभ्य समाज व शक्रिय मुक्त पुलिस के लिए अच्छा संकेत नहीं है.इस बाबत ओपी प्रभारी राजेंद्र उरांव ने बताया कि पीड़िता से प्राप्त आवेदन के आधार पर बीते दिन की घटना को लेकर थाना कांड संख्या419/17दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है.

Tushar Shandilya
©www.katiharmirror.com

No comments:

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Scroling ad