Tuesday, October 24, 2017

katihar मिरचाईबाड़ी में 6 घरो में लाखो की चोरी

 कटिहार सहायक थाना क्षेत्र अंतर्गत बीती रात अलग अलग मोहल्ले के 6 घरों में भीषण चोरी की घटना को अंजाम दिया है। जिसमें पांच घर में सफल चोरी किए एक घर में असफल रहे।
चोरों ने सिर्फ नगद और जेवरात की चोरी की। इन सभी घरों के मालिक पर्व के दौरान अपने अपने गांव गए हुए थे और कुछ घरों के मालिक अभी भी गांव से लौटे नहीं है। सोमवार की सुबह सहायक थाना क्षेत्र अंतर्गत बुद्धू चौक मोहल्ले में ब्रह्मदेव मंडल के घर में किराए पर रह रहे एसबीआई बैंक में कैशियर के पद पर काम करने वाले सकलदीप मंडल त्योहार के समय छुट्टी पर गए हुए थे जब आज सुबह वह घर पहुंचे तो देखा कि सारे गेट का लॉक टूटा हुआ है। घर के अंदर सारे सामान तितर-बितर पड़े हुए हैं। जिसकी सूचना बैंक कर्मी ने सहायक थाना को दी। वहीं सकलदेव मंडल ने बताया कि चोरों ने 8 ताला तोड़कर चोरी की घटना को अंजाम दिया। जिसमें दो अलमीरा, एक सोकस का लॉक तोड़कर सोने के जेवरात और 25000 नगद लेकर चंपत हो गए। वही चोरों ने मकान मालिक ब्रह्मदेव के घर का भी ताला तोड़ा। लेकिन वहां चोरी करने लायक कोई सामान नहीं मिला।




इधर साहयक थाना क्षेत्र अंतर्गत वार्ड संख्या 6 के हृदय गंज मोहल्ले में रात के 3 बजे के आसपास चोरों ने सिविल कोर्ट के अधिवक्ता वीरेंद्र चौधरी के घर अलमीरा खोलकर 5 भर सोने के जेवर और पांच लाख नगद लेकर चंपत हुए। बताते चलें कि वीरेंद्र चौधरी अपने घर का निर्माण कर रहे थे। घर के निर्माण के लिए 5 लाख कैश अलमीरा में रखे हुए थे और पहले से उनकी पत्नी ने अपने सोने के जेवरात उसी अलमारी में रखी हुई थी। हालांकि बीती रात 2 बजे के आसपास छठ पर्व को लेकर गंगा नहाने के लिए मनिहारी के लिए घर के सदस्य निकले थे और उस समय तक घर में सब कुछ ठीक ठाक था। परिजनों के निकलने के बाद वीरेंद्र चौधरी और उनकी पत्नी घर में फिर से सो गए। वीरेंद्र चौधरी के बड़े भाई बाहर बरामदे में सोए हुए थे। इनके सोने के बाद 3:00 बजे के आसपास चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया और लाखों के माल लेकर चंपत हुए।


इस घटना के बाद फिर मिरचाईबाड़ी क्षेत्र के नया टोला मोहल्ले में भीषण चोरी की घटना प्रकाश में आया। इस जगह एक ही घर में तीन किराएदार रहते हैं और तीनों किराएदार त्योहार के अवसर पर अपने गांव गए हुए हैं। तीनों किराएदार के घर के दरवाजे को तोड़ कर बड़े आराम से चोरी की घटना को अंजाम दिय गया। चोरों ने सिर्फ ज्वेलरी और नगद समान ही चुराए बाकी सामानों को वहीं छोड़ दिया। बताते चलें कि मिरचाईबाड़ी नया टोला निवासी अरुण कुमार मंडल जो कहलगांव में एनटीपीसी में काम करते हैं और वहीं रहते हैं। इसलिए उन्होंने अपने मकान को किराए पर दे रखा है। इन के मकान में तीन किराएदार रहते है। जिसमें अनिरुद्ध कुमार जो मनरेगा में जेई के पद पर कार्यरत है। दूसरा किराएदार माधवसिंह है जो आर्मी से रिटायर्ड है। तीसरा किराएदार टी सोरेन जो किशनगंज में जन शिक्षा अधिकार में अधिकारी हैं। यह तीनों किराएदार त्यौहार के समय अपने परिवार को लेकर अपने अपने गांव गए हुए हैं। इनके गैर मौजूदगी में चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया है। चोरों ने इन तीनों किराएदार के घर मे रखे अलमीरा को तोड़कर सोने के जेवरात और नगद ही सिर्फ चुराए हैं। बाकी सामान को तितर-बितर करके छोड़ दिया है। अभी भी एक किराए दार अपने गांव में ही छुट्टी बिता रहे हैं। सोमवार को मकान मालिक अरुण कुमार मंडल के भाई श्यामदेव किसी काम से आए हुए थे जब उन्होंने घर का ताला टूटा देखा तो आसपास के पड़ोसियों को इस बात की सूचना दी। जैसे ही सभी लोगों को पता चला तो वह सब सभी दौरे हुए अरुण मंडल के घर पहुंचे और सहायक थाना को चोरी की घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही सहायक थाना अध्यक्ष अंजय अमन सह दलबल के साथ घटनास्थल पहुंचे। इधर मकान मालिक के भाई श्याम देव में लिखित आवेदन देकर अज्ञात चोरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।



सहायक थाना क्षेत्र अंतर्गत पिछले दो तीन महीनों में लगातार चोरी की घटनाएं घटित हुई है। जिसमें कई बड़े अधिकारी सहित आम लोगों के घर में दिन के समय भी चोरी की घटना हुई है। लगातार चोरी के वारदात होने के बाद एसपी सिद्धार्थ मोहन जैन के निर्देश पर कई अपराधियों को पकड़ा गया और जेल भी भेजा गया। लेकिन चोरी की घटना है कि रुकने का नाम ही नहीं ले रही। हर महीने में दो से तीन घटनाएं लगातार घट रही है। इधर सहायक थाना क्षेत्र में नए थाना अध्यक्ष के रूप में अंजय अमन ने प्रभार संभाला ही है कि उनका स्वागत चोरों ने एक ही रात में 6 घरों में चोरी कर कर किया है। नए थाना प्रभारी अंजय अमन के सामने चोरों को पकड़ने के लिए कठिन चुनौती साबित हो रहा है।


कहते हैं एसपी


एसपी डॉ सिद्धार्थ मोहन जैन ने चोरी की घटना पर बताया है कि जो भी चोरी की घटनाएं हुई है पुलिस उस की छानबीन कर रही है। बीच में कई दिनों तक सहायक थाना क्षेत्र में लगातार चोरियां हुई है। जो कि बंद हो गया था। इसमें कई लोग को गिरफ्तार करके जेल भी भेजे गया था। अभी इसका सत्यापन कराया जा रहा है कि क्या वह व्यक्ति जेल से बाहर आ गए हैं। या कोई नया गैंग आया हुआ है। हमें उम्मीद है कि बहुत जल्द इसका उद्भेदन हो जाएगा।

©www.katiharmirror.com

No comments:

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Scroling ad