Friday, August 18, 2017

Katihar :कदवा में दाने दाने को तरसे बाढ़ पीड़ित

कटिहार में बाढ़ के भयावह रूप लेता जा रहा है | जहा कटिहार शहर में घुसा बाढ़ का पानी वही कई गाँवो में अब तक नही पहुचा राहत सामग्री भूख से रोते बिलकते सैकड़ो लोग |  ग्राउंड जीरो पर पहुँच कर नीरज झा एक्स्लुसिब रिपोटिंग 



कटिहार पूरी तरह बाढ़ की चपेट मे है लोग  भागकर अपनी जान बचाने के लिए उचे स्थान मे शरण लिये हुये है  लेकिन कटिहार में आई बाढ़ की एक और ये भयानक त्रास्दी देखने को आ रही है जो आपके बेचेन रख देगा । लोग दाने दाने को मोहताज हो गए हैं | बाढ़ से जिंदगी के जंग में जिंदगी तो जीत गई पर भूख से जिंदगी के जंग में सिर्फ बेबसी के आंसू निकल रहे है |

कटिहार के कदवा प्रखंड का है जहाँ 50 से ज्यादा गाव में अब तक राहत सामग्री नहीं पहुची है ना लोग दाने दाने को मोहताज है  बाढ़ के पानी कि वजह से अन्य जगहों से यहाँ का संपर्क टूट गया है | आज न्यूज़ नेशन और कटिहार मिरर कि टीम जब यहाँ पहुची तो यहाँ भूख कि बेवशी में बेवश लोग दिखे | रो रो कर आरती देबी और मीरा देबी ने बताया ना प्रशासन और ना नेता ना अधिकारी  इनकी सुधि लेने अब तक नहीं आये किसी तरह एक दिन वाद एक दिन भोजन करते है घर का सारा सामान बह गया है |  बड़ी बेसब्री से हेलिकोप्टर कि तरफ ऊपर देखते तो है लेकिन उससे भूख कि जंग जितने का कोई सामान नहीं गिरता,  वो सिर्फ ऊपर ऊपर से ही गुजर जाता है  | राहत के नाम पर अब तक कुछ नहीं मिला | अचानक आये बाढ़ में सारे अनाज और घर डूब गए किसी तरह इनकी जान बच पाई है लेकिन भूख से बेवश लोगों  सरकार के नुमाइनदे पर टक टकी लगाये हए बेठे है 
 प्रसासन द्वारा सैकड़ों राहत शिविर चलाये जा रहे हैं लेकिन ये भी सच है कि कई जगहों पर राहत अब तक नहीं पहुच पाई है जिसकी वजह से लोग कई दिनों से भूखे है चार जिलों में महज दो हेलिकोप्टर से लाखो लोगों को राहत पहुचाने कि इस व्वस्था के कारण ही लोग भूख कि बेवशी में बेवश हो गए हैं | इस सवाल पर बिहार सरकार के मंत्री कहते है कि जो जगह टापू में तब्दील हो गया है वहां हेलिकोप्टर से राहत पहुचाई जा रही है और जहाँ राहत नहीं पहुच पाई है वहां दो दिनों के भीतर राहत पहुचाई जाएगी |
बाढ़ के पानी से तो ये लोग जिंदगी कि जंग जीत गए हैं लेकिन भूख कि जंग में जिंदगी जीतेगी या लचर व्वस्था ये एक बड़ा सवाल है | जरुरत है इनलोगों तक जल्द से जल्द राहत पहुचाने कि ताकि भूख ना जीत जाय और इन्शानियत और जिंदगी जीत सके|


कुमार नीरज

©www.katiharmirror.com

No comments:

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Scroling ad