Monday, August 21, 2017

Katihar मनिहारी :घंटो के मेहनत से डूबने से बचाया (Video)

बाढ़ की स्थिति कटिहार के मनिहारी में भयावह हो गयी है। रोज नये नये क्षेत्रो में  पानी घुसने से लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। सबसे खराब स्थिति यहाँ के ११ पंचायतों की है। बाढ़ का पानी लगातार नये क्षेत्रों में फैल रहा है। मनिहारी-अमदाबाद मुख्य सड़क बाढ़ के पानी के कारण बंद हो चुके हैं । यहाँ के कई पंचायतों में एसडीआरएफ और सेना की टीम सहायता में जुटी है। हालात बत से बत्तर होते जा रहे हैं |


 बाढ़ का कहर है की थमने का नाम नही ले रहा है बाढ़ के पानी का बहाव ऐसा की मानो सब कुछ बहा लील जाने की जिद ठान ली हो , कटिहार मिरर की टिम कटिहार के उन इलाकों में पहुच का ग्राउंड जोरो के हालात आपतक पंहुचा रहा है जहां अब तक कोई नही पहुचा|

 कटिहार के मनिहारी में सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति पानी के तेज बहाव में बह गया , जिंदगी और मौत के बीच घंटों जंग चलती रही आखिरकर उसे ग्रमीणो की मदद से बचा लिया , जिंदगी और मौत के जंग की इस तस्वीर को जिसने भी देखा उसके रोगटे खड़े हो गए | पानी में बहता इस व्यक्ति के घर में बाढ़ ने कहर बरपाया जिसके बाद आनन फानन में ये घर के सभी सदस्यों को उचे और सुरक्षित स्थान पर तो पंहुचा दिया और आखिर में जब ये व्यक्ति खुद सुरक्षित स्थान जाने के लिए निकला तब तक बाढ़ ने विकराल रूप धारण कर लिया था सडकों पर तेज पानी कि धारा बहने लगी जो इस शख्स को अपने साथ बहा कर ले गई |

 घंटों वो जिंदगी कि जंग लड़ता रहा और आखिर में गाव वालों ने उसे एक रस्सी के सहारे सुरक्षित बचा लिया और जिंदगी और मौत के जंग में जिंदगी बच गई | जिंदगी और मौत के जंग में जिंदगी तो जीत लेकिन इसी इलाके में कई ऐसे लोग है जिनका बाढ़ में सबकुछ डूब गया है वो सडकों पर शरण लिए हुए हैं उनके सामने जिंदगी जीने के लिए दो वक्त कि रोटी मिलना भी दोभर हो गया है क्योकि सरकार सुनती नहीं और अधिकारी कोई सुधि नहीं लेते |

Kumar Neeraj
©www.katiharmirror.com

katihar news फलका में बाढ़ का कहर अब भी ज़ारी

फलका में जगह-जगह बरंडी नदी का तटबंध टूटने से पानी घुस आया है| शुक्रवार को हसेली स्थित थॉमस बांध टूटने से दर्जनों गांव में पानी आ गया था|।

कई नए गांव में द्दोसरे दिन भी बाढ़ की चपेट में आ गये थे|तेरह में से सात पंचायत में पानी घुस चूका था| अभी भी निसुंदरा पुल के पास थॉमस बांध पर पानी दबाब बना हुआ है|
©www.katiharmirror.com

Sunday, August 20, 2017

Katihar समेली में बढ़ रहा बाढ़ से संकट

कटिहार : कटिहार के समेली प्रखंड क्षेत्र में भी बाढ़ का संकट बढता जा रहा है|बरांडी नदी का पानी कई गाँव में प्रवेश करने की कगार पर है| मोहजान, चकला, पिपरा गांव में बाढ़ का पानी पहले ही प्रवेश कर चुका है।
समेली कटिहार


 आस पास के लोग ऊंची जगहों पर शरण ले रहे हैं|
©www.katiharmirror.com

Katihar मनसाही में डूबे युवको का शव मिलने से मातम


मनसाही थाना क्षेत्र के कुरेठा गांव  नरेश कुमार मंडल उम्र 19 वर्ष पिता स्व बेसरी मंडल, बुलोब  कुमार मंडल उम्र  20 पिता स्व आनन्दी मंडल,  मुन्ना कुमार मंडल उम्र 22 माता अकली देवी,      तीनो युवक आज धनपाड़ा स्कूल के समीप नहाने के दौरान तेज धार में बह गया। युवक ने पिरजन सहित अन्य सैकड़ो ग्रामीण तीनो युवक को पानी में काफी खोजबीन करने के बाद भी नही मिला। घटना की सुचना मनसाही थाना प्रभारी कृष्णा प्रसाद सिंह दिया गया। मौके पर मनसाही पुलिस पहुंच कर जांच पड़ताल करने के उपरांत भी युवकों कोई पता नही चला।                      
 तीनों मृतक अपने परिवार के इकलौते पुत्र थे।

बाढ़ की त्रासदी झेल रहे पीड़ित परिवार के  गांव में बाढ़ आये दो दिन क्या हुई कि उसकी परिवार की सम्पूर्ण खुशियां ही बाढ़ में बहती चल गयी।
अलग अलग परिवार के तीनों मृतक अपने परिवार के मात्र एकलौते पुत्र थे जिसके परिवार की भरण पोषण की सारी जिम्मेवारी तीनों युवकों के कंधे पर ही टिका था।महज एक छोटी सी गलती ने तीनों की जिन्दगियां तो लील ही ली लेकिन साथ ही उसके परिवार की आशियाने ही उजाड़ दी। ऐसे मेंभुखमरी की स्तिथि पारीवार के सामने उत्पन्न हो गयी है।

तीनों एकलौते मृत युवकों के पिता की पूर्व में ही हो चुकी है मौत।

दुर्भाग्यवश बाढ़ में बहकर हुई तीनो युवकों के पिता की पूर्व में ही मौत हो चुकी है और एकलौते पुत्र होने के नाते जाहिर सी बात है कि परिवार के  सम्पूर्ण जिम्मेवारियां इन्ही तीनों युवकों पर टिकी थी।ऐसे में भगवान ने भी तीनों को मौत क्या दी कि परिवार के निवाले भी छीन गयी।

बेहद गरीब परिवार से आता था तीनो मृतक।।

तीनों युवकों की मौत क्या हुई गांव में मातम सा छा गया। सब की जुबान पर बस एक ही बात की है भगवान ई की होलय.... जैसे पहाड़ सी टूट पड़ी।चंद मिनटों में परिवार का सबकुछ पानी मे समा गया।तीनो के परिवार के सारी खुशियां सारे रोजगार के रास्ते हमेशा के लिये बंद हो गया।
मृतक नरेश मंडल व मुन्ना मंडल अकेले भाई एक एक बहन हैं वहीं बुलोब मंडल अकेले भाई सहित छह बहने हैं। सभी मजदूरी करते थे जबकि मुन्ना मंडल पिता मोहन मंडल बेहद ही गरीब परिवार से था।

घटना की सभी ने निंदा की है तथा पूरा गांव सहित आसपास के लोग इस वीभत्स घटना से गम में गमगीन है।पंचायत मुखिया मुकेश उरांव ने प्रशाशन से सहायता की बात कही है तो वहीं मनसाही अंचलाधिकारी ने तीनों मृतक के मौत की पुष्टि करते हुये  आपदा राशि सहित हर संभव सहायता देने की बातें कही है|

kumar Neeraj

©www.katiharmirror.com

Katihar बैगना के जलस्तर में आई कमी

कटिहार :एक तरफ जहाँ  बैगना और छिट्टाबाड़ी में पानी  का जलस्तर कम हो रहा है वही दूसरी तरफ ललियाही के तरफ जलस्तर में थोड़ी वृद्धि दर्ज की गयी है|
Baigna Katihar
प्रशासन और खासकर स्थानीय लोगो की जागरूकता की वजह से समय रहते कमज़ोर तटबंधो को मिटटी द्वरा भर कर मजबूत कर देने की वजह से शहर में बाढ़ का खतरा तो लगभग टल ही चूका है|
हालाँकि जनता द्वारा बैगना और छिट्टाबाड़ी में उठाये कदमो से ये तो समझ आ ही चूका है की सवाधानी में ही समझदारी है|
 ©www.katiharmirror.com

Katihar बाढ़ को लेकर जिलाधिकारी द्वारा सर्वदलीय बैठक

कटिहार के जिला अधिकारी ने सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया मकसद था जिले में आई बाढ़ में फंसे लोगों को जिले के आखरी छोर तक राहत सामग्री पहुंचाई जाए |साथ ही जनप्रतिनिधि मीडिया NGO रेड क्रॉस सोसाइटी के साथ साथ जिले के प्रबुद्ध लोगों से जानकारी लेकर और बेहतर कार्य किए जाएं |

लेकिन इस प्राकृतिक आपदा के समय भी राजनीतिक दल के लोग बाढ़ में फंसे लोगों को कैसे राहत दी जाए और प्रशासन के साथ हाथ मिला कर कैसे काम करे ,इससे ज्यादा लोगो की मदद के  बजाय जिला प्रशासन पर दबाव बनाने में लगे  कि किस NGO को कहां रिलीफ बांटने का ठेका दे दिया जाए |

जबकि जिले के जिलाधिकारी मिथिलेश मिश्रा ने बार-बार कहा अभी हम लोग की पहली कोशिश  रहेगी  पानी में  फंसे लोगों को बाहर निकालना उसके लिए भोजन की व्यवस्था करना उसके स्वास्थ्य के लिए चेकअप करवाना मवेशी की चारा की व्यवस्था करना वो इंपोर्टेंट है| 
 इन राजनेताओं को ये ध्यान देने की ज़रूरत है कि जिले में हर साल बाढ़ आती है और फिर चली जाती है और छोड़ जाती है पर तबाही का यह मंजर |एनजीओ के द्वारा रिलीफ  बटवा कर अपने वोट बैंक लिए सरकारी मशीनरी का प्रयोग कर वाह वाही लूटने के अलावा  मूल स्तर से इस समस्या के समाधान की ज़रूरत है|

कुमार नीरज
©www.katiharmirror.com

Katihar स्थानीय लोग और संस्थाएं जुटी है बाढ़ पीडितो कि सेवा में

कटिहार जिले में हर तरफ बाढ़ ते जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है|कई लोग अपना घर छोड़ कर उपरी जगहों पर शरण लिए हुए है| कई लोग अब भी बाढ़ में ही फंसे है जिनतक बुनियादी सुविधाए भी नहीं पहुँच रही है|
ऐसे में कटिहार की बहित साडी संस्थाएं और लोग व्यक्तिगत स्तर पर भी बाढ़ पीडितो की मदद कर रहे है|

हमारा प्रयास है की ऐसे लोगो द्वारा किया कार्य हम सब तक पहुंचाए|ताकि मदद को इच्छुक लोग इनके साथ जुड़कर इनकी अच्छे काम में मदद कर सके|

बहुत सारे लोग इस काम में लगे है| हम तक जो जानकारी पहुंचा पा रहे है हम उनको जानकारी जनता तक पहुँचाने का एक प्रयास कर रहे है|

लिओ क्लब और लायंस क्लब कटिहार पिछले पांच दिनों से रहत कार्य में लगा हुआ है| ज़रुरात्मंदो तक पूरी सब्जी और ब्रेड इत्यादि इनके द्वारा पहुंचाई जा रहे है| लियो क्लब के सेक्रेट्री सूरज शर्मा ने हमें ये जानकारी दी है|



जीवन ज्योति संघ वेलकम क्लब बिनोदपुर के द्वारा राहत सामग्री का वितरण काल सुबह 11 बजे सोनोली मुरादपुर मानिकपुर गांव तक जाएगा सभी भाई  से अनुरोध है कि हमारे साथ चल कर राहत सामाग्री वितरण करने में सहायता  करें    




                 

बजरंग दल के लोगो ने आस पास के लोगो से चंदा करके बाढ़ पीडितो तक ज़रूरत का सामान पहुँचाया|कटिहार के मधेपुरा के आसपास के क्षेत्रो में जाकर इन्होने पीडितो के भोजन आदि की व्यवस्था की|















बैगना के  आसपास शुभम चौधरी अपने मित्रो के साथ खाना लेकर बाढ़ पीडितो की मदद कर रहे है|पानी वाले इलाको से निकलकर लोगो के खाने पीने का इन्तेजाम करते है| इन्होने लोगो से अपील की आस पास सिर्फ भीड़ लगाकर देखने  न आये| आये तो साथ कुछ मदद भी लेते आये|


©www.katiharmirror.com

Katihar मनिहारी में नए इलाको में आ रहा पानी

कटिहार: शनिवार को  मनिहारी में गंगा के जलस्तर में  बढ़ोतरी दर्ज की गई। नदियों के पानी अब भी नए इलाको में हो रहा है|
Manihari Flood News
 मनिहारी के उत्तरी कांटाकोश, दक्षिणी कांटाकोश, बघार में भी पानी का प्रवेश कर गया ।  नया टोला स्थित  विधायक आवास के पास से भी पानी आने के समाचार है|
  बलड़ियाबाड़ी पुल के नीचे से भी पानी  शहरी क्षेत्र में  आने लगा है| धुरियाही, कुमारी पुर, नीमा, फतेहनगर, केवाला, उत्तरी व दक्षिणी कांटाकोश, नवाबगंज, मनोहरपुर, नारायणपुर, दिलारपुर, बघार, बौलिया पंचायतों में स्थिथि चिंताजनक बनी हुई है|


मनिहारी में गुस्साए बाढ़ पीड़ितों ने सड़क जाम भी किया| लोगों का कहना था कि सोहराडांगी, बौरनी, बैरगाछी व गडीघुट्टी सहित कई इलाके जलमग्न है, राहत तो दूर नाव की भी व्यवस्था नहीं की गई है|

©www.katiharmirror.com

Saturday, August 19, 2017

कटिहार विधायक और कोढ़ा विधायक एम्एलसी ने लिया क्षेत्रो का जायजा

कटिहार सदर विधायक तारकिशोर प्रसाद ने बाढ़ से प्रभावित नयाटोला, दिग्धी कटिहार मिशन टोला, माइल बासा, टपका, घोषवाबाड़ी में जाकर हालात का जायजा लिया|उन्होंने अंचलाधिकारी को राहत केंद्रों का सुचारू संचालन एवं पीड़ितों को हरसंभव मदद हेतु आवश्यक निर्देश दिए|
एम्एल सी अशोक अग्रवाल ने भी रौतारा में भ्रमण कर हालत का जायजा लिया|और जनता को सहायता का भरोसा दिलाया|

कोढ़ा विधायक पूनम पासवान ने जिलाधिकारी से मिलकर उन्हें फलका एवं कोढ़ा प्रखंड के बाढ़ पीड़ितों को मदद , नाव की व्यवस्था, राहत शिविर आदि की समस्याओं पर चर्चा की एवं मदद पहुचने की भी अपील की|
©www.katiharmirror.com

Katihar कोढ़ा में लोग आज भी कर रहे बांधो की सुरक्षा

Korha Katihar Samchar
कटिहार: कोढ़ा में कल से लोग नहर और बांधो की सुरक्षा में लगे हुए हैं|शुक्रवार को प्रखंड के कुछ गाँव में बाढ़ का पानी आ जाने से डरे लोग नए क्षेत्रो में बाढ़ के पानी को आने से रोकने के लिए प्रयास कर रहे है|

फ़िलहाल  राजवाड़ा, रौतारा ,  बेलगच्छी,विशनपुर आदि क्षेत्रो में कई घरो में पानी घुस गया है|। शनिवार को कोलासी मनरेगा पार्क में सरकार द्वारा  बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री बांटी  जानी थी|
©www.katiharmirror.com

Katihar बलरामपुर में घटा पानी पर बढ़ी है मुश्किलें

Balrampur katihar Flood 
कटिहार :बलरामपुर प्रखंड के  बाढ़ग्रस्त पंचायतों में एक तरफ बाढ़ का पानी घटा है |
बाढ़ पीडितो की स्थिति अभी भी मुश्किल में ही है| अपना घर बार छोड़कर राहत शिविरों में रह रहे लोगो तक बुनियादी सुविधा पहुँचने में भी काफी परेशानी हो रही है|

स्थानीय प्रशासन को इन रहत शिविरों की तरफ ध्यान देने की आवश्यकता है|

©www.katiharmirror.com

katihar तिरंगा युवा क्लब कर रहा बाढ़ पीडितो की मदद

कटिहार : कटिहार के तिरंगा युवा क्लब के सदस्य मिलकर बाढ़ पीडितो की मदद कर रहे हैं| २० लोगो की इस संस्था ने कल  सौरिया  और बेलवा में बाढ़ पीडितो के बीच मदद का सामान और खाना पहुँचाया|
कल ये सनौली मार्ग पर सौरिया की तरफ १००० खाने के पाकेट बाटेंगे|
मदद के इच्छुक लोग संपर्क करे|
मो खुर्शीद अंसारी  :
9709740041

सदस्य : अरुण कुमार आज़ाद.शेख भुट्टू ,रफत खान मो नसीम अंसारी खुर्शीद मिस्टर राजा फ़िरोज़ कालू मो वजीर  सोनू विल्सन अमीरुल खान गुड्डू कुमार कासिफ खान

पता: चन्द्रमा चौक कटिहार







Tiranga yuva club Katihar Team Members


आप भी किसी स्तर पर मदद कर रहे है तो हमें Whatsapp 91280 80966 पर बताएं| हम आपकी बात कटिहार तक पहुंचाएंगे|जिससे मदद को इच्छुक लोग आपसे संपर्क कर सके|- कटिहार मिरर 

©www.katiharmirror.com

कटिहार : कटिहार की माँ तारा संस्था द्वारा बाढ़ पीडितो की मदद

 कटिहार के नया टोला और बड़ा बाज़ार के कुछ युवको की  माँ तारा संस्था बाढ़ पीड़ित की मदद में लगी है|बेलवा गांव सौरया में इनके द्वारा बाढ़ पीडितो को चुरा,गुड़ और दाल्मूठ का पाकेट बांटा गया|
कल इनके  मधेपुरा,बैठेली और टिकली में पूरी सब्जी का वितरण किया जायेगा|

 संस्था में सब मित्र सब ही है  जो खुद के खर्च पर संस्था चलाती है। ओर किसी भी प्रकार की प्राक्रतिक आपदा आने पर  संस्था  के सदस्य तत्पर   रहते है।  


      कल ये लोग मधेपुरा ,बैठेली और टिकली में मदद करने जा रहे है|               
                   
बाढ़ पीडितो की मदद के लिए  इच्छुक आप इन्हें संपर्क कर सकते हैं|
 9471277515
9939966925
9709918208





Maa Tara 


आप भी किसी स्तर पर मदद कर रहे है तो हमें Whatsapp 91280 80966 पर बताएं| हम आपकी बात कटिहार तक पहुंचाएंगे|- कटिहार मिरर 

©www.katiharmirror.com

Katihar फलका में थॉमस बाँध टूटने से कई गाँव में आया पानी

फलका : शुक्रवार की शाम को फलका प्रखंड के रहटा पंचायत अंतर्गत हसेली के समीप बरंडी नदी पर बना थॉमस बांध टूटने से प्रखंड के कई गांवों में बाढ़ का पानी तेजी से फैलने लगा है।



शुक्रवार की शाम को 20 फीट तक बांध कटने से पानी का तेजी से बहाव हो रहा है। उत्तरी सोहथा, दक्षिणी सोहथा, तरियापार, हसेली, सहित कई गांव में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। ।©www.katiharmirror.com

Katihar हसनगंज के बेलवा में हरिनाम महतो की बाढ़ में मौत का ज़िम्मेदार कौन ?

कटिहार के हसनगंज प्रखंड के बलवा पंचायत के फुलवरिया गांव में प्रशासनिक अधिकारी और राजनेताओं के कोरे आश्वासन के चलते हरिनाम महतो की चली गई जान ।
5 बच्चों के पिता हरिनाम महतो पिता स्वर्गीय फुलचंद महतो अपने परिवार के लिये दवाई लाने के लिए केले के ड़ेंगी नाव पर चढ़कर निकला  तेज धार में डेंगी  पलट गई और डूबने से मौत हो गई  । स्थानीय लोगो ने बाढ़ से एक बड़े पुल बह जाने से  अधिकारीयों और  विधायक  को त्राहिमाम संदेश भेजने का प्रयास किया था  एक नाव व्यवस्था करने को लेकर|

 लेकिन प्रशासन तक पीड़ित लोगो की बात शायद पहुँच नहीं पा रही है आज 40 वर्षीय हरिराम महतो डूबने से मौत हो गई इस घटना के बाद प्रशासन पहुंच कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है लेकिन एक सवाल जरूर खड़ा हो गया है | लोग सवाल येही उठा रहे हैं कि इस मौत की ज़िम्मेदार प्रशासन की उदासीनता है या उनकी नाकाम व्यवस्था ?

एक बाढ़ पीड़ित अपनी बात सरकार तक कैसे पहुंचाए इसकी समुचित व्यवस्था करने की ज़रूरत है |ज़मीनी स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य में लगे और ज्यादा लोगो की आवश्यकता है |

Kumar Neeraj.


©www.katiharmirror.com

Friday, August 18, 2017

Katihar :कदवा में दाने दाने को तरसे बाढ़ पीड़ित

कटिहार में बाढ़ के भयावह रूप लेता जा रहा है | जहा कटिहार शहर में घुसा बाढ़ का पानी वही कई गाँवो में अब तक नही पहुचा राहत सामग्री भूख से रोते बिलकते सैकड़ो लोग |  ग्राउंड जीरो पर पहुँच कर नीरज झा एक्स्लुसिब रिपोटिंग 



कटिहार पूरी तरह बाढ़ की चपेट मे है लोग  भागकर अपनी जान बचाने के लिए उचे स्थान मे शरण लिये हुये है  लेकिन कटिहार में आई बाढ़ की एक और ये भयानक त्रास्दी देखने को आ रही है जो आपके बेचेन रख देगा । लोग दाने दाने को मोहताज हो गए हैं | बाढ़ से जिंदगी के जंग में जिंदगी तो जीत गई पर भूख से जिंदगी के जंग में सिर्फ बेबसी के आंसू निकल रहे है |

कटिहार के कदवा प्रखंड का है जहाँ 50 से ज्यादा गाव में अब तक राहत सामग्री नहीं पहुची है ना लोग दाने दाने को मोहताज है  बाढ़ के पानी कि वजह से अन्य जगहों से यहाँ का संपर्क टूट गया है | आज न्यूज़ नेशन और कटिहार मिरर कि टीम जब यहाँ पहुची तो यहाँ भूख कि बेवशी में बेवश लोग दिखे | रो रो कर आरती देबी और मीरा देबी ने बताया ना प्रशासन और ना नेता ना अधिकारी  इनकी सुधि लेने अब तक नहीं आये किसी तरह एक दिन वाद एक दिन भोजन करते है घर का सारा सामान बह गया है |  बड़ी बेसब्री से हेलिकोप्टर कि तरफ ऊपर देखते तो है लेकिन उससे भूख कि जंग जितने का कोई सामान नहीं गिरता,  वो सिर्फ ऊपर ऊपर से ही गुजर जाता है  | राहत के नाम पर अब तक कुछ नहीं मिला | अचानक आये बाढ़ में सारे अनाज और घर डूब गए किसी तरह इनकी जान बच पाई है लेकिन भूख से बेवश लोगों  सरकार के नुमाइनदे पर टक टकी लगाये हए बेठे है 
 प्रसासन द्वारा सैकड़ों राहत शिविर चलाये जा रहे हैं लेकिन ये भी सच है कि कई जगहों पर राहत अब तक नहीं पहुच पाई है जिसकी वजह से लोग कई दिनों से भूखे है चार जिलों में महज दो हेलिकोप्टर से लाखो लोगों को राहत पहुचाने कि इस व्वस्था के कारण ही लोग भूख कि बेवशी में बेवश हो गए हैं | इस सवाल पर बिहार सरकार के मंत्री कहते है कि जो जगह टापू में तब्दील हो गया है वहां हेलिकोप्टर से राहत पहुचाई जा रही है और जहाँ राहत नहीं पहुच पाई है वहां दो दिनों के भीतर राहत पहुचाई जाएगी |
बाढ़ के पानी से तो ये लोग जिंदगी कि जंग जीत गए हैं लेकिन भूख कि जंग में जिंदगी जीतेगी या लचर व्वस्था ये एक बड़ा सवाल है | जरुरत है इनलोगों तक जल्द से जल्द राहत पहुचाने कि ताकि भूख ना जीत जाय और इन्शानियत और जिंदगी जीत सके|


कुमार नीरज

©www.katiharmirror.com

Katihar Flood Updates : 18 August 2017


हसनगंज के रामपुर गाँव में पानी बढ़ने का समाचार है|हसनगंज में ही तीन बच्चियों के नाव से पानी में गिरने का भी समाचार है|

छीटाबारी मे  नहर पर  स्थानीय लोगों के साथ मिलकर  पूर्व मंत्री डॉ0 राम प्रकाश महतो, पूर्व विधायक मो0 शकूर, जिलाध्यक्ष दिलीप विस्वास, शाहनवाज़ खान , फ़िरोज़ क़ुरैशी ने भी बोरा बिछाया |

कटिहार विधायक तारकिशोर प्रसाद ने भी किया बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रो का दौरा|

मंत्री विनोद सिंह ने कहा बांध के तटबंध टूटने की होगी जांच|

स्थानीय मिरचाईबाड़ी में बाढ़ पीड़ित ग्रामीणों ने जताया रोष | डॉ राम प्रकाश महतो ने समझा बुझाकर की एसडीओ से बात और मदद का भरोसा दिया|

कदवा विधायक डा० शकील अहमद खान ने झौआ मीनापुर, सालमारी, बलिया बेलौन, कुरुम हाट, भैंसबंधा दिलशादपुर, शिकारपुर, निस्ता, नुनगडा़ इत्यादि बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया|

कटिहार राधिकापुर रेलखंड हुआ चालू


दलन के भसना पूल पर जलस्तर बढ़ने की आ रही है सूचना|कटिहार के अंचल अधिकारी भी पहुँचे

स्थानीय लोगो ने दिखाई बाढ़ पीडितो की मदद का ज़ज़बा| बढ़ चढ़ कर लोग अपनी तरफ से पहुंचा रहे है मदद|




 ©www.katiharmirror.com

Katihar : शहर में बाढ़ का खतरा घटा | विधायक कर रहे कोशी तटबंध मरम्मती पर कैंप

कटिहार शहर में टला फिलहाल बाढ़ का खतरा| कोशी के तटबंध की हो रही है मरम्मत | विधायक खुद कर रहे थे मौके पर कैंप|



सोर्स :इटीवी बिहार के सौजन्य से



©www.katiharmirror.com

katihar स्थानीय लोगो की रात भर के प्रयास के बाद नगर निगम आया आगे

कटिहार: गुरुवार की रात बैगना रामपाड़ा ,छीटाबाड़ी आदि जगहों पर स्थानीय लोगो द्वारा रात भर मशक्कत कर के नहर के कमज़ोर हिस्सों पर मिटटी और बोरी डाल कर मज़बूत करने का काम किया|

आसपास के लोगो खासकर के युवको का प्रयास सराहनीय रहा|
बढ़ते पानी के स्तर को देखते हुए सावधानी बरतने के लिए लोगो ने ये कदम उठाया|

















प्रशासन के किसी के न होने से लोग रुष्ट नज़र आये|
देर से ही सही पर सूचना मिलने पर नगर निगम ने  जाकर  कार्य में सहयोग दिया|



©www.katiharmirror.com

katihar flood हसनगंज के राहत शिविरों में पानी होने से हो रही मुश्किलें

कटिहार। हसनगंज प्रखंड में बाढ़ में फंसे लोगों के राहत शिविर में कल  बाढ़ का पानी घुस गया था| इससे राहत कार्य में मुश्किलें आ रही थी |

प्रशासन की ओर से क्षेत्र में आठ नाव का परिचालन किया गया है |विभिन्न स्कूलों में राहत शिविर संचालित किया जा रहा है।
©www.katiharmirror.com

Thursday, August 17, 2017

Katihar Flood updates : आज १७ अगस्त को बाढ़ का हाल

कटिहार:  क्या रहा आज 17 अगस्त २०१७  को बाढ़ का हाल
17 August 2017 updates


  • बाढ़ राहत शिविरों में पहुंचे बाढ़ पीड़ित परिवारों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के लिए जिला प्रशासन ने 70 वाटर प्यूरीफायर मशीन भेजा है।



  • जिला प्रशासन द्वारा डंडखोरा, प्राणपुर, हसनगंज एवं सुधानी में दो- दो तथा अमदाबाद में 10 एवं बारसोई में 15 राहत शिविर शुरू किया गया है।



  • डंडखोरा में राहत सामग्री न मिलने से परेशान बाढ़ पीडितो ने  डंडखोरा प्रखंड के CO निरंजन कुमार की पिटाई कर दी है|




  • जिलाधिकारी मिथिलेश मिश्रा ने विभिन्न मोबाइल कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर के मोबाइल नेटवर्क टावर्स दुरुस्त करने के दिए निर्देश




  • विधायक तारकिशोर प्रसाद, जिला पार्षद कुमार कुलजीत , प्रखंड प्रमुख मनोज कुमार मंडल ने बाढ़ग्रस्त इलाकों का जायजा लिया। 



  •  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री अशोक चौधरी सीमांचल के चारों जिलों में राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाना चाहिए। 
  • महानंदा के जलस्तर में आई कमी, वही कोशी और गंगा में दर्ज हुई वृद्धि

  • कटिहार के बैगना के हाजी टोला में पानी आने से दिन भर कटिहार शहर में अफवाहों का बाज़ार गर्म रहा|
   
  • नगर निगम क्षेत्र के बैगना, तियर पाड़ा, चौहान टोला, सुर तुलसी कालेज, प्रभात नगर सहित कई वार्डों में आया पानी। अनुकूल ठाकुर मंदिर तक पानी आ गया था|

  •      अनहोनी की आशंका से छीटाबाड़ी और एक नंबर कॉलोनी के पास स्थानीय लोगो ने  मिलकर नहर के तटबंधो को मज़बूत करने का बीड़ा उठाया है| लोग खुद से मिलकर  कमज़ोर  जगहों पर मिटटी भरने का काम कर रहे है|
  • लेलहा चौक और भसना पूल के बीच पानी का दवाब सड़क पर बढने से कटिहार पूर्णिया सड़क मार्ग अवरुद्ध होने का खतरा। 


  • फलका में दो पंचायतो में आज घुसा पानी।





और updates के लिए इस पेज पर नज़र बनाये रखे |
 ©www.katiharmirror.com

Katihar अशोक चौधरी लोकल ट्रेन से सुधानी रवाना

पूर्व शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी एवं कोढ़ा विधायक पूनम पासवान पहुंचे सुधानी |
बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अशोक चौधरी , विधानपरिषद में सचेतक दिलीप चौधरी ,विधानपार्सद तन्वीर अख्तर ,कोढा विधायक सुश्री पूनम पासवान , जिला कांग्रेस कमेटी कटिहार के कार्यकर्ता बाढ प्रभावित क्षेत्रो का जायजा लेने लोकल स्पेशल ट्रेन से सुधानी से सुधानी के लिए रवाना हुए है|


©www.katiharmirror.com

Katihar flood हवाई राहत की एक्सक्लूसिव रिपोर्टिंग

सीमांचल का पूरा क्षेत्र बाढ़ की विभीषिका से त्रस्त है रेलवे राहत सामग्री पहुंचाने में हाथ खड़े कर चुकी है क्यों कि रेलवे पटरी बाढ़ के पानी के सामने धराशाही हो चुका है । एनडीआरएफ की अन्य टीमें पानी मैं फसे लोगो को निकाल कर राहत शिविर मै बचाने में जुटी हुई है लेकिन बाढ़ मै अभी भी लाखों जाने फसी हुई है । भारतीय वायुसेना इन बाढ़ पीड़ितों के लिए भगवान का दूसरा रूप बनकर  करक बीच पहुँच रही है ।  हम नहीं कह रहे है  इस मुशीबत के बीच जहा चारो ओर पानी ही पानी हो कई दिनों से भूख प्यास से तड़प रहे परिवार को भोजन और राहत सामग्री पहुचाने का बीड़ा जो उठाया है ।

 काम करने के तरीके बिना रुके बिना  बिना थके जी-जान से एक ही मकसद कम समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों तक राहत पहुंचाना । युद्ध हो तो दुश्मनों के छक्के छुड़ाना कोई राष्ट्रीय विपदा आगयी हो तो कंधे से कंधा मिलाकर एक ही मकसद अपने देश की सेवा करना
ऐसे भारतीय सेना को कटिहार मिरर की टिम की तरफ से करता है दिल से सलाम
पूर्णिया एयर पोर्ट से नीरज झा की   एक्सलुसिब रिपोटिंग


पूर्णिया सहित आस-पास के जिलों में आई प्रलयंकारी बाढ़ के बाद बाढ़ग्रस्त इलाकों से अन्य जगहों का संपर्क ख़त्म हो गया है जिसके बाद इस विपदा में फसे लोगो को बाहर निकालने के काम में एनडीआरएफ, सेना एवं एसडीआरएफ की टीम लगातार जुटी हुई है। इसके साथ-साथ सेना व स्थानीय प्रशासन के संयुक्त सहयोग से बाढ़ पीड़ितों के लिए हेलीकॉप्टर के माध्यम से सूखा राशन पैकेट का वितरण भी शुरू कर दिया गया है। पूर्णिया के चुनापुर सैन्य हवाई अड्डे से पूर्णिया, कटिहार,अररिया व किशनगंज में राहत सामग्री पहुचाई जा रही इन चारों जिले में राहत सामग्री पहुचाये जाने के जिम्मा सरकार ने पूर्णिया के डीएम प्रदीप कुमार झा को नोडल पदाधिकारी नियुक्त कर दिया है . हेलीकॉप्टर के माध्यम जल्द से जल्द लोगों तक राहत सामग्री पहुचे इसके लिए एयर फ़ोर्स के पाईलट जल्द से जल्द राहत सामग्री जरुरतमंद को पंहुचा कर ज्यादा से ज्यादा बार उड़ान भरने के लिए प्रयासरत है .चारों जिले के वरीय पदाधिकारी चुनापुर सैन्य हवाई अड्डा पूर्णिया में जमे।



पूर्णिया, कटिहार , अररिया और किशनगंज के वरीय अधिकारी चुनापुर सैन्य हवाई अड्डे पर जमे हुए है और पूरी मुस्तैदी से अपनी निगरानी में राहत सामग्रियों को बाढ़ पीड़ितों तक पहुचाने में भीड़े हैं ।

दो हेलीकॉप्टर के माध्यम से पहुँचाई जा रही है मदद

बाढ़ग्रस्त इलाकों में हेलीकॉप्टर के माध्यम से राहत सामग्रियां पहुचाई जा रही हैं जिसमे हर एक  उड़ान में 580 पैकेट आसपास रखी जा रही है जो बाढ़ पीड़ित लोगों तक  पहुँचाई जा रही है । खराब मौसम रहते हु भी .दो दिनों में 23 उड़ाने पर 21 उड़ानों से ही पहुँची राहत सामग्री
मंगलवार को 13 उड़ानों से बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री पहुंचाई गई थी और बुधवार को 8 उड़ानों से राहत सामग्री लोगों के बीच पहुँचाई जा सकी जबकि बुधवार को 2 उड़ाने मौसम ख़राब होने की वजह से वापस चुनापुर सैन्य हवाई अड्डे आ गई . बुधवार के 8 उड़ानों में पूर्णिया के अमौर में 1, अररिया जोकीहाट, मदनपुर में 4, कटिहार के कदवा,आजमनगर,बलरामपुर में 3 उड़ानों से राहत सामग्री बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुँचाई गई है ।


क्या -क्या है राहत सामग्री में ?

सरकार का पहला मकसद बाढ़ पीड़ित को राहत सामग्री पहुचा कर बाढ़ पीड़ित को बचाना  इस पैकेट  5 किलो के थैले में ढाई किलो चूड़ा, एक किलो चना, आधा किलो नामक , आधा किलो चीनी , माचिस और मोमबत्ती शामिल है

सेना बाढ़ प्रभावित लोगों को हर संभव मदद उपलब्ध करवाने के लिए कृतसंकल्प है सिर्फ एक ही मकसद जल्द से जल्द, ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच राहत सामाग्री पहुचाई जाय । जिला प्रसासन दावरा भेजी जा रही राहत सामाग्री चुनापुर सैन्य हवाई अड्डे पर प्रयाप्त मात्रा में  यहाँ मौजूद भारतीय सेना  तेजी से बाढ़ पीड़ितों को पाहुचने में लगे हैं _
नितिन तलवार , विंग कमांडर , चुनापुर सैन्य हवाई अड्डा, पूर्णिया ।
इससे हट से
..….….…....पूर्णिया के राहत शिविरों में खाना खाये डीएम और एसपी

डीएम पूर्णिया प्रदीप कुमार झा और एसपी पूर्णिया निशांत तिवारी ने बुधवार रात का भोजन बाढ़ प्रभावित क्षेत्र सुदूर पूर्णिया के बेलगच्छी गाँव के राहत शिविर में खाया और खाना खाके गुणवत्ता की जांच भी की ।
Kumar Neeraj
©www.katiharmirror.com

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Popular News in Katihar