Thursday, June 01, 2017

विस्थापितों के लिए विक्टर झा का आमरण अनशन १९ जून से

विक्टर झा ने  " करो या मरो " का संकल्प लेकर आंदोलन शुरू कर दिया है |इसके तहत बरारी अंचल और प्रखंड मुख्यालय का घेराव और उग्र प्रदर्शन 8 जून को करेंगे|
 10 जून को अमदाबाद , 12 जून को मनिहारी अनुमंडल और प्रखंड  ,14 जून कदवा प्रखंड में आंदोलन की शुरुवात करेंगे ।
19 जून से आमरण अनशन शुरू होगा जिसमें उनके अनुसार 40 हज़ार लोग शामिल होंगे तथा 23 जून से करेंगे पूर्ण नाकावंदी ।
विक्टर झा का कहना है की:

दो मुद्दों को लेकर (1) गँगा और महानंदा के कटाव से हुवे विस्थापितो जो विभिन्य बाँधो , सडको के किनारे और रेलवे लाईन के नीचे वर्षो वर्ष से नारकीय जीवन जी रहे है ,को पुनर्वास (2) कुर्सेला से लेकर अमदाबाद तक कटाव का स्थाई समाधान हेतु (स्पर ) बने मांगो के लिए " सत्याग्रह " किया था जिसमे 6 दिनों के बाद सरकार और प्रशासन के ठोस आश्वासन जिसमे तत्कालीन DM ,DDC ,ADM, तीनो SDO , तीनो DCLR , भू अर्जन पदाधिकारी , जिले के सभी CO आदि हज़ारो लोगो और तमाम मिडिया के सामने राजेंद्र स्टेडिम में भरोसा दिलाया था कि 3 महीनो के अंदर पुनर्वास करवा दिया जायेगा और साथ ही साथ कल से ही ( यानी 26.12.2016) स्पर का काम शुरू किया जायेगा । आज 3 महीने तो छोड़िए 6 महीने बीत चुके है पुनर्वास नहीं हो पाया है , पुनर्वास के नाम पर जो काम और जिस गति से हो रहा है उसमें बहुत ही खामी आ गया है साथ ही साथ सरकार का नया नया पैतरा रोज बदल रहा है । यहाँ तक की बाँधो पर से बिना पुनर्वास करवाये इन बेसहारो के घरो को तोड़ा जा रहा है** बिकास और बाढ़** के समाधान के नाम पर जिसमे कटिहार के सांसद तारिक़ साहब से लेकर सभी विधायको का समर्थन है कि इनके घरो को तोड़ा जाय और बाँधो के ऊपर रोड बने । ( विक्टर झा फेसबुक पोस्ट से)

कटिहार मिरर

No comments:

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Scroling ad