Monday, August 21, 2017

Katihar मनिहारी :घंटो के मेहनत से डूबने से बचाया (Video)

बाढ़ की स्थिति कटिहार के मनिहारी में भयावह हो गयी है। रोज नये नये क्षेत्रो में  पानी घुसने से लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। सबसे खराब स्थिति यहाँ के ११ पंचायतों की है। बाढ़ का पानी लगातार नये क्षेत्रों में फैल रहा है। मनिहारी-अमदाबाद मुख्य सड़क बाढ़ के पानी के कारण बंद हो चुके हैं । यहाँ के कई पंचायतों में एसडीआरएफ और सेना की टीम सहायता में जुटी है। हालात बत से बत्तर होते जा रहे हैं |


 बाढ़ का कहर है की थमने का नाम नही ले रहा है बाढ़ के पानी का बहाव ऐसा की मानो सब कुछ बहा लील जाने की जिद ठान ली हो , कटिहार मिरर की टिम कटिहार के उन इलाकों में पहुच का ग्राउंड जोरो के हालात आपतक पंहुचा रहा है जहां अब तक कोई नही पहुचा|

 कटिहार के मनिहारी में सड़क पार कर रहे एक व्यक्ति पानी के तेज बहाव में बह गया , जिंदगी और मौत के बीच घंटों जंग चलती रही आखिरकर उसे ग्रमीणो की मदद से बचा लिया , जिंदगी और मौत के जंग की इस तस्वीर को जिसने भी देखा उसके रोगटे खड़े हो गए | पानी में बहता इस व्यक्ति के घर में बाढ़ ने कहर बरपाया जिसके बाद आनन फानन में ये घर के सभी सदस्यों को उचे और सुरक्षित स्थान पर तो पंहुचा दिया और आखिर में जब ये व्यक्ति खुद सुरक्षित स्थान जाने के लिए निकला तब तक बाढ़ ने विकराल रूप धारण कर लिया था सडकों पर तेज पानी कि धारा बहने लगी जो इस शख्स को अपने साथ बहा कर ले गई |

 घंटों वो जिंदगी कि जंग लड़ता रहा और आखिर में गाव वालों ने उसे एक रस्सी के सहारे सुरक्षित बचा लिया और जिंदगी और मौत के जंग में जिंदगी बच गई | जिंदगी और मौत के जंग में जिंदगी तो जीत लेकिन इसी इलाके में कई ऐसे लोग है जिनका बाढ़ में सबकुछ डूब गया है वो सडकों पर शरण लिए हुए हैं उनके सामने जिंदगी जीने के लिए दो वक्त कि रोटी मिलना भी दोभर हो गया है क्योकि सरकार सुनती नहीं और अधिकारी कोई सुधि नहीं लेते |

Kumar Neeraj
©www.katiharmirror.com

katihar news फलका में बाढ़ का कहर अब भी ज़ारी

फलका में जगह-जगह बरंडी नदी का तटबंध टूटने से पानी घुस आया है| शुक्रवार को हसेली स्थित थॉमस बांध टूटने से दर्जनों गांव में पानी आ गया था|।

कई नए गांव में द्दोसरे दिन भी बाढ़ की चपेट में आ गये थे|तेरह में से सात पंचायत में पानी घुस चूका था| अभी भी निसुंदरा पुल के पास थॉमस बांध पर पानी दबाब बना हुआ है|
©www.katiharmirror.com

Sunday, August 20, 2017

Katihar समेली में बढ़ रहा बाढ़ से संकट

कटिहार : कटिहार के समेली प्रखंड क्षेत्र में भी बाढ़ का संकट बढता जा रहा है|बरांडी नदी का पानी कई गाँव में प्रवेश करने की कगार पर है| मोहजान, चकला, पिपरा गांव में बाढ़ का पानी पहले ही प्रवेश कर चुका है।
समेली कटिहार


 आस पास के लोग ऊंची जगहों पर शरण ले रहे हैं|
©www.katiharmirror.com

Katihar मनसाही में डूबे युवको का शव मिलने से मातम


मनसाही थाना क्षेत्र के कुरेठा गांव  नरेश कुमार मंडल उम्र 19 वर्ष पिता स्व बेसरी मंडल, बुलोब  कुमार मंडल उम्र  20 पिता स्व आनन्दी मंडल,  मुन्ना कुमार मंडल उम्र 22 माता अकली देवी,      तीनो युवक आज धनपाड़ा स्कूल के समीप नहाने के दौरान तेज धार में बह गया। युवक ने पिरजन सहित अन्य सैकड़ो ग्रामीण तीनो युवक को पानी में काफी खोजबीन करने के बाद भी नही मिला। घटना की सुचना मनसाही थाना प्रभारी कृष्णा प्रसाद सिंह दिया गया। मौके पर मनसाही पुलिस पहुंच कर जांच पड़ताल करने के उपरांत भी युवकों कोई पता नही चला।                      
 तीनों मृतक अपने परिवार के इकलौते पुत्र थे।

बाढ़ की त्रासदी झेल रहे पीड़ित परिवार के  गांव में बाढ़ आये दो दिन क्या हुई कि उसकी परिवार की सम्पूर्ण खुशियां ही बाढ़ में बहती चल गयी।
अलग अलग परिवार के तीनों मृतक अपने परिवार के मात्र एकलौते पुत्र थे जिसके परिवार की भरण पोषण की सारी जिम्मेवारी तीनों युवकों के कंधे पर ही टिका था।महज एक छोटी सी गलती ने तीनों की जिन्दगियां तो लील ही ली लेकिन साथ ही उसके परिवार की आशियाने ही उजाड़ दी। ऐसे मेंभुखमरी की स्तिथि पारीवार के सामने उत्पन्न हो गयी है।

तीनों एकलौते मृत युवकों के पिता की पूर्व में ही हो चुकी है मौत।

दुर्भाग्यवश बाढ़ में बहकर हुई तीनो युवकों के पिता की पूर्व में ही मौत हो चुकी है और एकलौते पुत्र होने के नाते जाहिर सी बात है कि परिवार के  सम्पूर्ण जिम्मेवारियां इन्ही तीनों युवकों पर टिकी थी।ऐसे में भगवान ने भी तीनों को मौत क्या दी कि परिवार के निवाले भी छीन गयी।

बेहद गरीब परिवार से आता था तीनो मृतक।।

तीनों युवकों की मौत क्या हुई गांव में मातम सा छा गया। सब की जुबान पर बस एक ही बात की है भगवान ई की होलय.... जैसे पहाड़ सी टूट पड़ी।चंद मिनटों में परिवार का सबकुछ पानी मे समा गया।तीनो के परिवार के सारी खुशियां सारे रोजगार के रास्ते हमेशा के लिये बंद हो गया।
मृतक नरेश मंडल व मुन्ना मंडल अकेले भाई एक एक बहन हैं वहीं बुलोब मंडल अकेले भाई सहित छह बहने हैं। सभी मजदूरी करते थे जबकि मुन्ना मंडल पिता मोहन मंडल बेहद ही गरीब परिवार से था।

घटना की सभी ने निंदा की है तथा पूरा गांव सहित आसपास के लोग इस वीभत्स घटना से गम में गमगीन है।पंचायत मुखिया मुकेश उरांव ने प्रशाशन से सहायता की बात कही है तो वहीं मनसाही अंचलाधिकारी ने तीनों मृतक के मौत की पुष्टि करते हुये  आपदा राशि सहित हर संभव सहायता देने की बातें कही है|

kumar Neeraj

©www.katiharmirror.com

Katihar बैगना के जलस्तर में आई कमी

कटिहार :एक तरफ जहाँ  बैगना और छिट्टाबाड़ी में पानी  का जलस्तर कम हो रहा है वही दूसरी तरफ ललियाही के तरफ जलस्तर में थोड़ी वृद्धि दर्ज की गयी है|
Baigna Katihar
प्रशासन और खासकर स्थानीय लोगो की जागरूकता की वजह से समय रहते कमज़ोर तटबंधो को मिटटी द्वरा भर कर मजबूत कर देने की वजह से शहर में बाढ़ का खतरा तो लगभग टल ही चूका है|
हालाँकि जनता द्वारा बैगना और छिट्टाबाड़ी में उठाये कदमो से ये तो समझ आ ही चूका है की सवाधानी में ही समझदारी है|
 ©www.katiharmirror.com

Katihar बाढ़ को लेकर जिलाधिकारी द्वारा सर्वदलीय बैठक

कटिहार के जिला अधिकारी ने सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया मकसद था जिले में आई बाढ़ में फंसे लोगों को जिले के आखरी छोर तक राहत सामग्री पहुंचाई जाए |साथ ही जनप्रतिनिधि मीडिया NGO रेड क्रॉस सोसाइटी के साथ साथ जिले के प्रबुद्ध लोगों से जानकारी लेकर और बेहतर कार्य किए जाएं |

लेकिन इस प्राकृतिक आपदा के समय भी राजनीतिक दल के लोग बाढ़ में फंसे लोगों को कैसे राहत दी जाए और प्रशासन के साथ हाथ मिला कर कैसे काम करे ,इससे ज्यादा लोगो की मदद के  बजाय जिला प्रशासन पर दबाव बनाने में लगे  कि किस NGO को कहां रिलीफ बांटने का ठेका दे दिया जाए |

जबकि जिले के जिलाधिकारी मिथिलेश मिश्रा ने बार-बार कहा अभी हम लोग की पहली कोशिश  रहेगी  पानी में  फंसे लोगों को बाहर निकालना उसके लिए भोजन की व्यवस्था करना उसके स्वास्थ्य के लिए चेकअप करवाना मवेशी की चारा की व्यवस्था करना वो इंपोर्टेंट है| 
 इन राजनेताओं को ये ध्यान देने की ज़रूरत है कि जिले में हर साल बाढ़ आती है और फिर चली जाती है और छोड़ जाती है पर तबाही का यह मंजर |एनजीओ के द्वारा रिलीफ  बटवा कर अपने वोट बैंक लिए सरकारी मशीनरी का प्रयोग कर वाह वाही लूटने के अलावा  मूल स्तर से इस समस्या के समाधान की ज़रूरत है|

कुमार नीरज
©www.katiharmirror.com

Katihar स्थानीय लोग और संस्थाएं जुटी है बाढ़ पीडितो कि सेवा में

कटिहार जिले में हर तरफ बाढ़ ते जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है|कई लोग अपना घर छोड़ कर उपरी जगहों पर शरण लिए हुए है| कई लोग अब भी बाढ़ में ही फंसे है जिनतक बुनियादी सुविधाए भी नहीं पहुँच रही है|
ऐसे में कटिहार की बहित साडी संस्थाएं और लोग व्यक्तिगत स्तर पर भी बाढ़ पीडितो की मदद कर रहे है|

हमारा प्रयास है की ऐसे लोगो द्वारा किया कार्य हम सब तक पहुंचाए|ताकि मदद को इच्छुक लोग इनके साथ जुड़कर इनकी अच्छे काम में मदद कर सके|

बहुत सारे लोग इस काम में लगे है| हम तक जो जानकारी पहुंचा पा रहे है हम उनको जानकारी जनता तक पहुँचाने का एक प्रयास कर रहे है|

लिओ क्लब और लायंस क्लब कटिहार पिछले पांच दिनों से रहत कार्य में लगा हुआ है| ज़रुरात्मंदो तक पूरी सब्जी और ब्रेड इत्यादि इनके द्वारा पहुंचाई जा रहे है| लियो क्लब के सेक्रेट्री सूरज शर्मा ने हमें ये जानकारी दी है|



जीवन ज्योति संघ वेलकम क्लब बिनोदपुर के द्वारा राहत सामग्री का वितरण काल सुबह 11 बजे सोनोली मुरादपुर मानिकपुर गांव तक जाएगा सभी भाई  से अनुरोध है कि हमारे साथ चल कर राहत सामाग्री वितरण करने में सहायता  करें    




                 

बजरंग दल के लोगो ने आस पास के लोगो से चंदा करके बाढ़ पीडितो तक ज़रूरत का सामान पहुँचाया|कटिहार के मधेपुरा के आसपास के क्षेत्रो में जाकर इन्होने पीडितो के भोजन आदि की व्यवस्था की|















बैगना के  आसपास शुभम चौधरी अपने मित्रो के साथ खाना लेकर बाढ़ पीडितो की मदद कर रहे है|पानी वाले इलाको से निकलकर लोगो के खाने पीने का इन्तेजाम करते है| इन्होने लोगो से अपील की आस पास सिर्फ भीड़ लगाकर देखने  न आये| आये तो साथ कुछ मदद भी लेते आये|


©www.katiharmirror.com

Get Katihar Mirror on Google Play

Katihar News App (Katihar Mirror) https://play.google.com/store/apps/details?id=sa.katiharmirror.com

Popular News in Katihar